Assam Assembly Election 2021: RJD भी लड़ेगी विधान सभा चुनाव, Tejashwi Yadav ने किया ऐलान

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) अगले महीने असम में होने जा रहा विधान सभा चुनाव लड़ेगी. पार्टी नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) इस बारे में रणनीति बनाने के लिए गुवाहाटी पहुंच गए हैं.

Assam Assembly Election 2021: RJD भी लड़ेगी विधान सभा चुनाव, Tejashwi Yadav ने किया ऐलान
असम कांग्रेस के अध्यक्ष रिपुन बोरा से मिलते तेजस्वी यादव

गुवाहाटी: बिहार हाथ से निकलने के बाद राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने देश के दूसरे भागों में विस्तार की कोशिश तेज कर दी है. पार्टी नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा कि उनकी पार्टी समान विचारधारा वाले दलों के साथ असम में आगामी विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) लड़ेगी.

गुवाहाटी दौरे पर पहुंचे तेजस्वी यादव

गुवाहाटी दौरे पर पहुंचे तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कांग्रेस असम (Assam) के प्रमुख रिपुन बोरा से मुलाकात की. वे अब गठबंधन को औपचारिक रूप देने के लिए AIUDF के साथ बातचीत करेंगे. पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी ने कहा, ‘RJD ने अपनी मौजूदगी को बढ़ाने का फैसला किया है. इसलिए हम असम विधानसभा चुनावों में भाग लेंगे. हम समान विचारधारा वाले दलों से बात कर रहे हैं.’

कांग्रेस और AIUDF के साथ बनाएंगे गठबंधन

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा कि वे कांग्रेस और AIUDF के अलावा अन्य छोटे दलों के संपर्क में भी है. उन्होंने कहा, ‘‘हम UPA का हिस्सा हैं. कांग्रेस हमारी स्वाभाविक और पुरानी सहयोगी है. हम बिहार में एक साथ हैं. हम उन सभी लोगों के साथ रहेंगे, जो संविधान में विश्वास रखते हैं.’

 

जीत वाली सीटों पर लड़ेंगे विधान सभा चुनाव

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा, ‘बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड, ओडिशा और छत्तीसगढ़ के लगभग पांच फीसदी हिंदी भाषी लोग हैं. 11 सीटों पर ऐसे लोगों की संख्या काफी है, लेकिन हम केवल वहीं लड़ेंगे, जहां जीतने की संभावना अधिक हो.’ उन्होंने कहा कि वे बीजेपी के खिलाफ प्रचार के लिए पश्चिम बंगाल, केरल और पुडुचेरी भी जाएंगे.'

'संवैधानिक संस्थाएं अब स्वतंत्र नहीं रही'

उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार गरीब, बेरोजगार युवाओं, अर्थव्यवस्था, किसानों, छात्रों और महिलाओं के बारे में चिंतित नहीं है. उसका एकमात्र उद्देश्य हिंदू-मुस्लिम राजनीति पर बात कर सत्ता में बने रहना है. तेजस्वी ने कहा कि सीबीआई, आईटी, ईडी, आरबीआई जैसे सभी संवैधानिक संस्थान अब स्वतंत्र नहीं हैं. ये सभी पार्टी BJP के विभिन्न प्रकोष्ठों के रूप में काम कर रहे हैं. चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होने से पहले ही बीजेपी के आईटी सेल को तारीखों के बारे में जानकारी होती है.

'बिहार में बीजेपी के सारे वादे विफल हुए'

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav)ने आरोप लगाया कि बिहार में बीजेपी की ओर से किए गए सभी वादे विफल हो गए हैं. राज्य में बीजेपी-जेडीयू की सरकार के दौरान अपराध 101 प्रतिशत बढ़ गए हैं. ऐसा ही हाल असम का भी है. इसीलिए असम में भी दूसरी बार भाजपा सरकार नहीं होनी चाहिए. 

ये भी पढ़ें- Assembly Election 2021 Dates Update: 4 राज्य, 1 UT में चुनाव की तारीखों का ऐलान, बंगाल में 8 और असम में 3 चरणों में वोटिंग

'असम में भी कानून-व्यवस्था बिगड़ गई'

असम (Assam) में तीन चरणों वाले विधानसभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) पर तेजस्वी यादव ने कहा कि राज्य में ऐसा पहली बार हो रहा है. अभी तक असम में दो चरणों में मतदान होता रहा है. इसका सीधा मतलब ये हुआ कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ी हुई है. जिसके चलते आयोग को 3 चरणों में चुनाव का फैसला लेना पड़ा है. इसके लिए किसे दोषी ठहराया जाए? क्या वर्तमान सरकार इसके लिए दोषी नहीं है?

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.