होर्डिंग पर मोहन भागवत की तस्वीर लगाना पड़ा महंगा, पुलिस ने दर्ज किया केस
X

होर्डिंग पर मोहन भागवत की तस्वीर लगाना पड़ा महंगा, पुलिस ने दर्ज किया केस

RSS यानी संघ प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने हाल ही में देश की मौजूदा स्थिति पर चिंता जताई थी. उन्होंने कहा कि देश को आजाद हुए 75 साल हो गए हैं, लेकिन इस समय में हमें जहां पहुंचना चाहिए था उससे हम कहीं पीछे हैं.

होर्डिंग पर मोहन भागवत की तस्वीर लगाना पड़ा महंगा, पुलिस ने दर्ज किया केस

मुजफ्फरनगर: पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) में अपने होर्डिंग पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत की तस्वीरों का कथित रूप से इस्तेमाल करने के सिलसिले में शहर की एक विज्ञापन एजेंसी के मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. यूपी पुलिस (UP Police) ने सोमवार को मीडिया के साथ यह जानकारी साझा की है.

थाना प्रभारी ब्रजेंद्र कुमार रावत के मुताबिक, एजेंसी के मालिक सत्य प्रकाश रेशु के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 505 (1) के तहत रविवार को एक मामला दर्ज किया गया. यह मामला RSS के जिला प्रमुख सुरेंद्र सिंह की शिकायत पर दर्ज किया गया है. 

'विज्ञापन के लिए इस्तेमाल'

संघ से जुड़े अधिकारी की शिकायत मिलने के बाद पुलिस में दर्ज FIR के मुताबिक, सत्य प्रकाश रेशू पर ये आरोप लगाया गया था कि एजेंसी के इस मालिक ने अपने विज्ञापनों के लिए लगाई गई होर्डिंग में मोहन भागवत की तस्वीरों का इस्तेमाल किया था. शुरुआती जांच में ये शिकायत सही पाई गई थी. स्थानीय पुलिस का ये भी कहना है कि आरोपी को पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया है.

ये भी पढ़ें- 'जय श्रीराम' बोलने वालों को भागवत की नसीहत, कह दी ये बड़ी बात

'मना करने पर भी नहीं माना' 

उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता ने उससे अपने होर्डिंग से तस्वीरें हटाने को कहा था, लेकिन उसने नहीं किया. इसके बाद मजबूरी में पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराने के लिए आना पड़ा. अब इस मामले में पुलिस की जांच जारी है.

ये भी पढ़ें- कृषि कानून: 'संसद के ऊपर फहरा दो खालिस्‍तानी झंडा, सवा लाख डॉलर का देंगे इनाम'

गौरतलब है कि विज्ञापन (Advertisment) को लेकर भारत समेत पूरी दुनिया में कड़े कानून हैं. जिनके उल्लंघन पर भारी जुर्माने तक का प्रावधान है. ऐसे मामलों में बिना इजाजत किसी की तस्वीर या नाम का इस्तेमाल करना गैरकानूनी है. वहीं कॉपीराइट (Copyright) जैसी कई चीजों को लेकर आरोपी व्यक्ति को कड़ी कानूनी कार्यवाई का सामना करना पड़ सकता है.

भारत में विज्ञापन को लेकर कई कंपनियां अपनी अलग-अलग पॉलिसी पर काम करती हैं. 

भागवत ने जताई थी चिंता

गौरतलब है कि हाल ही में संघ प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने देश की मौजूदा स्थिति पर चिंता जताई थी. उन्होंने कहा कि देश को आजाद हुए 75 साल हो गए हैं, लेकिन इस समय में हमें जहां पहुंचना चाहिए था उससे हम अभी बहुत पीछे हैं. इससे पहले शुक्रवार को उन्होंने कहा था, ‘सत्यमेव जयते नानृतम्. यानि सत्य की ही जीत होती है, असत्य की नहीं. झूठ कितनी भी कोशिश कर लेकिन झूठ कभी विजयी नहीं होता है. अब उन्होंने यह बात किस संबंध में की इसका जिक्र नहीं किया था.

(भाषा इनपुट के साथ)

LIVE TV

Trending news