RSS चीफ मोहन भागवत ने कहा, 'दुनिया में सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान भारत में मिलेंगे'

आरएसएस चीफ ने कहा कि हिंदू संस्कृति विविधताओं को स्वीकारने और सम्मान करने वाली संस्कृति है'

RSS चीफ मोहन भागवत ने कहा, 'दुनिया में सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान भारत में मिलेंगे'
(फोटो साभार - ANI)

नई दिल्ली: आरएसएस (RSS) चीफ मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने कहा है कि दुनिया में सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान (Muslims) भारत में मिलेंगे. उन्होंने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां सभी धर्मों को आश्रय मिला है. मोहन भागवत ने कहा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि हम हिंदू (Hindu) हैं और हिंदू संस्कृति  विविधताओं को स्वीकारने वाली विश्व की एकमात्र संस्कृति है. 

एक कार्यक्रम में बोलते हुए भागवत ने कहा, कुछ लोगों का मानना है कि अंग्रेजों के आने से हमारी उन्नति हुई, यह बिल्कुल गलत बात है, गोरे लोग हमारे देश में नहीं आते तब भी हम वेदों के आधार पर वर्गविहीन समाज की स्थापना कर सकने के काबिल हैं.'

उन्होंने कहा, 'हमारी परंपरा क्या है? हमारी राष्ट्रीय एकता का आधार क्या है? इसके बारे में सामान्य धारा सर्वत्र हमारे देश में विद्यमान थी. अंग्रेजों की राजनीति के निकट जाकर उसको जिन लोगों ने छुआ या दूसरे महायुद्ध के बाद जो राजनीतिक समीकरण बदले उनमें जिनके स्वार्थ उभरे उनकी भाषा अलग हो गई' 

आरएसएस चीफ ने कहा, 'हम हिंदू राष्ट्र हैं और हिंदू किसी पूजा का नाम नहीं, किसी भाषा का नाम नहीं, किसी प्रांत-प्रदेश का नाम नहीं, हिंदू एक संस्कृति का नाम है जो भारत में रहने वाले सबकी सांस्कृतिक विरासत है. यह संस्कृति विविधताओं को स्वीकारने और सम्मान करने वाली संस्कृति है, दुनिया में एकमात्र ऐसी संस्कृति है. इसलिए विश्व में जब भी कोई देश लड़खड़या इस धरा के पास आया. 

उन्होंने कहा, 'यह हमारा इतिहास रहा है मारे मारे यहूदी फिरते थे अकेला भारत है जहां उनको आश्रय मिला है, पारसियों की पूजा उनकी मूल धर्म सहित सुरक्षित केवल भारत में है, विश्व में सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान भारत में मिलेंगे, यह क्यों हैं क्योंकि हम हिंदू है और इसलिए हमारा हिंदू देश है, हमारा हिंदू राष्ट्र है. '