close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: जम्मू-कश्मीर के हालत पर सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार का Exclusive इंटरव्यू

घाटी में सुरक्षा में कोई कमी नहीं की गई है. सुरक्षाबलों की मौजूदगी वैसी ही है, हालांकि प्रशासन ने आवाजाही पर लगी रोक को अलग-अलग क्षेत्रों में आंशिक और पूर्ण रूप से हटाने का फैसला किया है.

VIDEO: जम्मू-कश्मीर के हालत पर सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार का Exclusive इंटरव्यू
सोमवार को पूरे कश्मीर में स्कूल और कॉलेज खुल जाएंगे. जानकारी के मुताबिक, 19 अगस्त को घाटी में 190 स्कूल खुलेंगे.

कश्मीर: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 और 35A के निष्प्रभावी होने के बाद से ही शांति व्यवस्था बनी हुई है. वहीं, एहतियातन लगाई गई धारा-144 में ढील दी गई है. हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं. प्रशासन ने भी कई इलाकों में सख्ती में कमी की है. घाटी में बीते शनिवार को BSNL लैंडलाइन सेवा बहाल की गई. वहीं, उधमपुरा, जम्मू, सांबा, किश्तवाड़ा जैसे क्षेत्रों में रविवार को इंटरनेट सेवा भी बहाल कर दी गई है. इन सबके बीच जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार से ज़ी न्यूज के संवाददाता ने बातचीत की. के विजय कुमार ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में स्थिति सामान्य हो रही है. एनएसए अजीत डोभाल, गृह मंत्री अमित शाह और गृह सचिव ने मिलकर बेहतर प्लान बनाया.

जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार ने कहा कि हम सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे और इसके लिए हम लीगल ओपनियन ले रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमने आर्टिकल 370 पर संसद के फैसले के बाद बेहतर प्लानिंग बनाई. तमाम ऐसे एलीमेन्ट जो माहौल ख़राब कर सकते हैं, उनको हमने डिटेन किया, ये सबसे बड़ी चुनौती थी. 

 

 

उन्होंने कहा कि आतंकी ग्रुप में भर्ती रोकने के लिए हम रिहैबिलिटेशन प्रोग्राम चला रहे हैं. हम युवाओं को आतंकी संगठन से दूर रखने के लिए काफी काम रहे हैं. उन्होंने कहा कि सोमवार से स्कूल औक कॉलेज खुल जाएंगे. गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर से धीरे-धीरे पाबंदियों को हटाया जा रहा है. श्रीनगर के सिविल लाइंस इलाके में लगी पाबंदी को हटा दिया गया है. शहर के राजबाग, जवाहरनगर, संतनगर, हैदरपुरा, पीरबाग और एयरपोर्ट से लेकर राजबाग तक कोई पाबंदी नहीं है.

फिलहाल, घाटी में सुरक्षा में कोई कमी नहीं की गई है. सुरक्षाबलों की मौजूदगी वैसी ही है, हालांकि प्रशासन ने आवाजाही पर लगी रोक को अलग-अलग क्षेत्रों में आंशिक और पूर्ण रूप से हटाने का फैसला किया है. फिलहाल, लो स्पीड इंटरनेट को 35 पुलिस स्टेशन क्षेत्र में लागू किया गया है. हाई स्पीड इंटरनेट को लेकर प्रशासन बाद में फैसला लेगा. लोगों को दिक्कत ना हो इसके लिए श्रीनगर में प्रशासन ने घरों तक LPG सिलेंडर पहुंचाने का भी फैसला किया है.

प्रशासन की तरफ से राजौरी, पुंछ, डोडा, किश्तवाड़ और रामबन जैसे क्षेत्रों में दिन में पाबंदी हटा ली गई है. प्रधान सचिव रोहित कंसल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के बीच आवाजाही सामान्य रूप से शुरू हो गई है. सोमवार को पूरे कश्मीर में स्कूल और कॉलेज खुल जाएंगे. जानकारी के मुताबिक, 19 अगस्त को घाटी में 190 स्कूल खुलेंगे.