सुरक्षा बलों का अभियान आतंकी समूहों के खिलाफ है न कि कश्मीरियों के खिलाफ: राज्यपाल

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा,'जम्मू-कश्मीर में चीजें सुधर रही हैं और 14 फरवरी के भीषण आतंकवादी हमले के जिम्मेदार लोगों को सुरक्षा बल दंडित करेंगे.' 

सुरक्षा बलों का अभियान आतंकी समूहों के खिलाफ है न कि कश्मीरियों के खिलाफ: राज्यपाल
जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने मंगलवार को कहा कि सुरक्षा बलों का अभियान पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादी समूहों और उनके सरगनों के खिलाफ है 'न कि कश्मीरियों' के खिलाफ. राष्ट्रीय राजधानी के संक्षिप्त दौरे में आए मलिक ने कहा कि आतंकवाद प्रभावित राज्य में स्थिति तेजी से सामान्य हो रही है. उन्होंने कहा,'जम्मू-कश्मीर में चीजें सुधर रही हैं और 14 फरवरी के भीषण आतंकवादी हमले के जिम्मेदार लोगों को सुरक्षा बल दंडित करेंगे.' 

मलिक ने संकट के समय में विभिन्न राज्यों में रह रहे कश्मीरी लोगों के जानमाल की रक्षा में वहां की सरकारों के सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा, 'मैंने हमेशा कहा है कि कश्मीर के लोग भी राज्य से आतंकवाद के खतरे का सफाया चाहते हैं.' उन्होंने कहा कि यह पाकिस्तान और आतंकवाद को समर्थन देने की उसकी नीतियों के खिलाफ लड़ाई है.

'अधिकारी कश्मीरी छात्रों के संपर्क में हैं'
उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार के संपर्क अधिकारी दिल्ली, जयपुर, भोपाल, चण्डीगढ़, अलीगढ़, बेंगलुरू और पुणे में कश्मीरी छात्रों के साथ समन्वय कर रहे हैं और सुनिश्चित कर रहे हैं कि कोई अप्रिय घटना नहीं हो. पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकवादी हमले के बाद कुछ घटनाएं हुई थीं.

उन्होंने कहा, 'कुछ असामाजिक तत्व सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ना चाहते हैं लेकिन इन पर तुरंत काबू पा लिया गया.' राज्यपाल ने पुलिस उपमहानिरीक्षक (दक्षिण कश्मीर) अमित कुमार और ब्रिगेडियर हरबीर सिंह से बात की और सुरक्षा बलों का नेतृत्व करने के लिए उनकी सराहना की. पुलवामा में सोमवार को हुई मुठभेड़ में दोनों अधिकारी जख्मी हो गए हैं.

उन्होंने कहा,'मैंने संवाददाता सम्मेलन में अपनी बात साफ साफ कहने के लिए भी जनरल ऑफिसर इन कमांड लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्लों की प्रशंसा की. मुझे उम्मीद है कि संदेश वहां चला गया होगा जहां इसे पहुंचना चाहिए.' लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लों ने कहा था कि सुरक्षा बल कश्मीर घाटी में बंदूक उठाने वालों का खात्मा कर देंगे.

(इनपुट - भाषा)