सिम्भावली शुगर्स: अमरिंदर सिंह का दावा, 'दामाद के खिलाफ आरोप बेबुनियाद'

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरपाल सिंह की सिम्भावली शुगर्स में केवल 12 .5 प्रतिशत हिस्सेदारी है. मुख्यमंत्री ने कहा के उनके दामाद कानून का पालन करने वाले नागरिक हैं.

सिम्भावली शुगर्स: अमरिंदर सिंह का दावा, 'दामाद के खिलाफ आरोप बेबुनियाद'
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (फाइल फोटो)

चंडीगढ: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आज दावा किया कि ओरियंटल बैंक आफ कामर्स (ओबीसी) मामले में उनके दामाद के खिलाफ आरोप बेबुनियाद हैं. अमरिंदर ने दावा किया कि उनके दामाद को इस विवाद में बिना वजह खींचा जा रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरपाल सिंह की सिम्भावली शुगर्स में केवल 12 .5 प्रतिशत हिस्सेदारी है. मुख्यमंत्री ने कहा के उनके दामाद कानून का पालन करने वाले नागरिक हैं.

 राजनीतिक लाभ के लिए लगाए जा रहे हैं आरोप : अमरिंदर
अमरिंदर ने दावा किया कि भाजपा सहित राजनीतिक दल गुरपाल सिंह पर सिर्फ इसलिए निशाना साध रहे हैं क्योंकि ओबीसी के निदेशक के उनसे निजी संबंध हैं. उन्होंने दावा किया कि केवल राजनीतिक लाभ कमाने के लिए बेबुनियाद आरोप लगाए गए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण के सामने गुरपाल सिंह का निदेशक और हिस्सेदार के रूप में अपने अधिकारों के लिए सिम्भावली शुगर्स के खिलाफ मामला चल रहा है क्योंकि उन्हें सभी बड़े फैसलों तथा कंपनी के कागकाज से बाहर रखा गया.

अमरिंदर ने कहा कि इन तथ्यों को देखते हुए उनके दामाद पर राजनीतिक हमले व्यर्थ हैं. यहां तक कि मामले की पृष्ठभूमि पर सरसरी नजर से पता चल जाएगा कि गुरपाल सिंह की इस पूरे मामले में कोई भूमिका नहीं है.

अमित शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना
बैंक में कथित धोखाधड़ी मामले में कांग्रेस पर पलटवार करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि यह शर्मनाक है कि पंजाब के मुख्यमंत्री के रिश्तेदार ने किसानों की गाढ़ी कमाई का पैसा हड़प लिया. भाजपा अध्यक्ष का इशारा बैंक के उस कथित धोखाधड़ी मामले की ओर था जिसमें अमरिंदर सिंह के दामाद पर मुकदमा दर्ज किया गया है .

'पंजाब सीएम के दामाद ने किसानों के पैसे हड़पे' 
शाह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ पंजाब के मुख्यमंत्री के दामाद ने भारत के मेहनती किसानो के पैसे को हड़प लिया . इससे अधिक शर्मनाक और क्या हो सकता है कि कांग्रेस ने किसानों को लूटा . ’’ भाजपा अध्यक्ष ने सवाल किया कि कांग्रेस ने बैंक में कथित धोखाधड़ी से जुड़ी खबर संबंधी ट्वीट को क्यों हटाया . 

'ट्वीट क्यों हटाया गया'
शाह ने ट्वीट किया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के दामाद के लूट को रेखांकित करने वाले ट्वीट को क्यों हटाया गया . कांग्रेस हमेशा अपनी लूट को रेखांकित करने में आगे रही है, चाहे एनपीए का मामला हो,कर्ज बकाये या विजय माल्या और नीरव मोदी को खुली छूट देने का विषय हो . शाह ने ओरिएंटल बैंक आफ कामर्स में कथित धोखाधड़ी से जुड़ी खबर को भी साझा किया .

कैप्टन अमरिंदर सिंह के दामाद गुरपाल सिंह मान पर बैंक लोन में फर्जीवाड़े का मुकदमा

उल्लेखनीय है कि सीबीआई ने 22 फरवरी को सिम्भावली शुगर्स लिमिटेड, उसके अध्यक्ष गुरमीत सिंह मान, उप प्रबंध निदेशक गुरपाल सिंह एवं अन्य के खिलाफ 97.85 करोड़ रूपये की कथित बैंक धोखाधड़ी मामले में मामला दर्ज किया था . गुरपाल सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के दामाद हैं .

(इनपुट - भाषा)