पुलवामा आतंकी हमलाः सोशल मीडिया पर लोगों ने जताया दुख, बोले- जवानों की शहादत देखकर दिल टूट गया है

यूजर्स ने शहीद सैनिकों के सम्मान में अपने-अपने अकाउंट्स पर घटना की फोटो लगाते हुए शहीदों को श्रद्धांजली दी है.

पुलवामा आतंकी हमलाः सोशल मीडिया पर लोगों ने जताया दुख, बोले- जवानों की शहादत देखकर दिल टूट गया है
पुलवामा अटैक के बाद दक्षिण कश्मीर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है
Play

नई दिल्लीः पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकी हमले की सोशल मीडिया पर जमकर निंदा हो रही है. जहां यूजर्स ने अपने-अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शहीदों को श्रद्धांजली देते हुए दुख जताया है. गुरुवार को हुए इस आतंकी हमले के बाद जहां एक ओर पूरे देश में शोक की लहर छाई हुई है तो वहीं सोशल मीडिया के जरिए भी लोगों ने दुख जाहिर करते हुए सरकार से आतंकी हमले के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. यूजर्स ने शहीद सैनिकों के सम्मान में अपने-अपने अकाउंट्स पर घटना की फोटो लगाते हुए शहीदों को श्रद्धांजली दी है. ऐसे में किसी ने फेसबुक, किसी ने व्हाट्सएप तो किसी ने ट्विटर के जरिए शहीदों को नमन किया है.

वहीं हमले के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स की तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. एक यूजर अनुभव कुमार ने लिखा कि 'पुलावामा में हुए आतंकी हमले के बाद हमारे बहादुर जवान और पूरा भारत सदमे में है. ऐसे में हम सभी भारत के एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते सरकार से निवेदन करते हैं कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर कोई एक्शन जरूर लें.' वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा कि 'पुलावामा में हुए आतंकी हमले को लेकर बहुत व्यथित हूं. शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजली.' वहीं एक यूजर ने लिखा कि 'देश के लिए यह एक दुखी करने वाला दिन था. कल हमने हमारे देश के हीरोज को खो दिया. शत् शत् नमन.'

पुलवामा आतंकी हमला: दो दशक बाद घाटी में IED से विस्‍फोट, इस कारण आतंकियों ने बदली स्ट्रेटजी

एक यूजर ने लिखा कि 'पुलवामा में आतंकियों ने कायरतापूर्ण काम किया है. हमारे देश के लिए अपने मूल्यवान प्राणों की आहुति देने के लिए हमारे बहुत से बहादुर जवानों की शहादत देखकर दिल टूट रहा है. मेरी गहरी संवेदनाएं, मेरी प्रार्थनाएं हर शहीद वीर शहीदों के परिवार के सदस्यों के लिए हैं.' एक ट्विटर हैंडलर ने लिखा कि 'इंदिरा गांधी के पास 56 इंच की छाती नहीं थी, लेकिन वह एक सफल और शानदार सैन्य रणनीतिकार और राजनयिक थीं. जिनके चलते 1971 की लड़ाई में भारत ने पाकिस्तान पर शानदार जीत हासिल की थी. जहरीले राजनीतिक बयान देश के लिए खतरा है.'

पुलवामा हमलाः शहीदों की संख्या बढ़कर हुई 44, कैबिनेट की बैठक, राजनाथ जा रहे कश्मीर

वहीं आतंकी हमले को लेकर सरकार और पीएम मोदी का कहना है कि देश के सैनिकों की शहादत बेकार नहीं जाएगी. वहीं जम्‍मू और कश्‍मीर की सुरक्षा स्थिति पर चर्चा के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों की समिति (सीसीएस) की आज बैठक होगी. सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह बैठक पुलवामा की फिदायिन हमले की घटना की पृष्ठभूमि में हो रही है जिसमें 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए हैं.

वहीं राजनाथ सिंह ने आतंकी हमले को लेकर ट्वीट करते हुए कहा कि, ‘‘(जम्मू कश्मीर के) पुलवामा में सीआरपीएफ पर आज का कायराना हमला बहुत ही पीड़ाजनक और विचलित कर देने वाला है. मैं सीआरपीएफ के हर उस जवान को नमन करता हूं जिसने देश की सेवा में अपनी जान कुर्बान की है.’’