close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आध्यात्मिक गुरु स्वामी सिद्धेश्वर ने 'पद्मश्री' लेने से किया इंकार, पीएम को लिखा पत्र

स्वामी सिद्धेश्वर ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा कि वह संन्यासी एवं आध्यात्मिक व्यक्ति हैं और उन्हें किसी पुरस्कार की इच्छा नहीं है. 

आध्यात्मिक गुरु स्वामी सिद्धेश्वर ने 'पद्मश्री' लेने से किया इंकार, पीएम को लिखा पत्र
ज्ञानयोगाश्रम विजयपुर के संत सिद्धेश्वर स्वामी (फोटो- यूट्यूब ग्रैब)

नई दिल्लीः ज्ञानयोगाश्रम विजयपुर के संत सिद्धेश्वर स्वामी ने केंद्र सरकार की ओर से प्रदान किया जाने वाले पद्म पुरस्कार को लेने से इंकार कर दिया है. भारत सरकार ने संत सिद्धेश्वर को 'पद्मश्री' से सम्मानित करने का ऐलान किया है. स्वामी सिद्धेश्वर ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा कि वह संन्यासी एवं आध्यात्मिक व्यक्ति हैं और उन्हें किसी पुरस्कार की इच्छा नहीं है.

अपने पत्र में उन्होंने लिखा, ‘भारत सरकार द्वारा मुझे पद्मश्री पुरस्कार दिए जाने का मैं बहुत आभारी हूं, लेकिन मैं पूरे सम्मान के साथ आपको और सरकार को यह कहना चाहता हूं कि मैं इस अवॉर्ड को लेने का इच्छुक नहीं हूं. एक सन्यासी हूं मेरी पुरस्कारों में कोई रुचि नहीं है. मैं आशा करता हूं कि आप मेरे इस निर्णय को सहर्ष स्वीकार करेंगे.’ 

Spiritual leader Siddheshwar Swamiji of Vijaypur

इससे पहले स्वामी सिद्धेश्वर ने राज्य सभा सदस्य बासवराज पाटिल सेदाम को शुक्रवार को लिखे पत्र में कहा कि आध्यात्मिक व्यक्ति होने के नाते मेरी किसी सम्मान या पुरस्कार में रुचि नहीं है. मैंने पूर्व में भी कोई पुरस्कार स्वीकार नहीं किया है. कनार्टक विश्वविद्यालय ने कुछ वर्ष पूर्व मुझे मानद उपाधि प्रदान की थी. उसे मैंने सम्मान के साथ लौटा दिया था. यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने पद्मश्री पुरस्कार लेने से इनकार करने की अपनी इच्छा से केंद्र सरकार को अवगत करा दिया है.

यह भी पढ़ेंः पद्म पुरस्कार 2017: मिलिए '9 रत्नों' से

आपको बता दें कि गणतंत्र दिवस की पूर्व संख्या पर भारत सरकार ने देश के प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया था. इनमें कला, संस्कृति, खेल के साथ मानव सेवा के क्षेत्र में अहम योगदान देने वालों को जगह दी गई है. इस बार 85 लोगों को पद्म अवॉर्ड दिया गया. इसमें से तीन लोगों को पद्म विभूषण, नौ लोगों को पद्म भूषण और 73 लोगों को पद्मश्री से सम्मानित किया गया. गृह मंत्रालय ने कहा कि इस साल सरकार को पद्म पुरस्कारों के लिए 15,700 से ज्यादा आवेदन मिले थे.