VIDEO: कश्मीरी पत्थरबाज़ों की बदसलूकी सहने वाले CRPF जवान ने कहा, आख़िरी सांस तक देश की सेवा करूंगा

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का जवान जिसने उस वक्त संयम और सहनशीलता दिखाई जब कश्मीरी युवक उसे गाली देने के साथ ही लात मार रहे थे, ने कहा कि पत्थरबाजी करने वालों से नहीं डरता.

VIDEO: कश्मीरी पत्थरबाज़ों की बदसलूकी सहने वाले CRPF जवान ने कहा, आख़िरी सांस तक देश की सेवा करूंगा
सीआरपीएफ जवान विकी विश्वकर्मा ने कहा कि वह अपनी अंतिम सांस तक देश की सेवा करेगा.

नई दिल्ली: केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का जवान जिसने उस वक्त संयम और सहनशीलता दिखाई जब कश्मीरी युवक उसे गाली देने के साथ ही लात मार रहे थे, ने कहा कि पत्थरबाजी करने वालों से नहीं डरता.

ज़ी मीडिया से एक्सक्लूसिव बातचीत में सीआरपीएफ जवान जो कि संबलपुर गांव से है, ने कहा कि वह अपनी अंतिम सांस तक देश की सेवा करेगा.

इसके साथ ही जवान ने कहा कि वह पत्थरबाजों से डरा नहीं था, बल्कि मौजूदा स्थिति को लेकर वह खबरदार था क्योंकि वहां छोटी सी चूक से भी हालात बिगड़ सकते थे.

विकी विश्वकर्मा जो कि छुट्टी में घर लौटे हैं, ने कहा कि सहन करना उनकी आदत है. जवान ने बताया कि देश की बेहतरी के लिए उसने पलटकर उन पत्थरबाजों को कोई जवाब नहीं दिया जो उसे गाली देने रहे थे.

WATCH VIDEO

विकी विश्वकर्मा ने कहा, 'वह बहुत संवेदनशील इलाका है, मैं बस अपनी ड्यूटी पूरी करना चाहता था. यह कठिन है, लेकिन हमें ट्रेनिंग के दौरान यही सिखाया जाता है कि किसी भी स्थित में हम कैसे खुद के साथ-साथ देश की हिफाजत कर सकते हैं. वे लोग (पत्थर फेंकने वाले) पाकिस्तान जिंदाबाद, गो इंडिया गो बैक जैसे नारे लगाकर हमें उकसाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन मैंने हार नहीं मानी. मैं अपनी आखिरी सांस तक देश के लिए जीऊंगा, लेकिन मैं अपना कर्तव्य करना जारी रखूंगा, मैं अपने देश के लिए कुछ भी करूंगा.'

सीआरपीएफ जवान की मां ने कहा कि उस वक्त वह बहुत डरी हुई थीं जब उसके बेटे की पोस्टिंग सीमा पर की गई. हालांकि वह अब इस बात के लिए गर्व महसूस करती हैं कि उनका बेटा अपनी ड्यूटी सही तरीके से कर रहा है.

विकी के पिता ने कहा, 'मेरा बेटा देश की सेवा करता रहेगा', जबकि उसके भाई ने कहा कि उसने अपने भाई पर गर्व है.