जम्मू-कश्मीर में 5 आतंकी गिरफ्तार, 26 जनवरी से पहले बड़ी आतंकी साजिश नाकाम

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 26 जनवरी से पहले बड़ी आतंकी साज़िश नाकाम की है. 

जम्मू-कश्मीर में 5 आतंकी गिरफ्तार, 26 जनवरी से पहले बड़ी आतंकी साजिश नाकाम
श्रीनगर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के 5 आतंकी गिरफ्तार किए गए हैं.

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 26 जनवरी से पहले बड़ी आतंकी साजिश नाकाम की है. श्रीनगर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के 5 आतंकी गिरफ्तार किए गए हैं. पुलिस ने भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद की है. जेलटिन रॉडस, नाइट्रिक एसिड, जैकेट्स, पिस्टल, गोला-बारुद इनके पास से बरामद किया गया है. कई खतरनाक विस्फोटक उनके पास से मिले.

जिन पांच आरोपियों के नाम गिरफ्तार किए गए हैं, उसमें एहजाज अहमद शेख, उमर हमीद शेख, साहिल फारुक गोजरी, नासिर अहमद मीर और इम्तियाज अहमद चिकला शामिल है. पुलिस की शुरुआती पूछताछ में सामने आया कि आतंकवादी उस क्षेत्र के बाजार में खुल रही दुकानों से परेशान थे और खलल डालना चाहते थे. पुलिस ने बताया कि जैसा सामान मिला, उसको देखकर साफ है कि इनके मंसुबे ठीक नहीं थे.  

दरअसल, 8 जनवरी को दोपहर डेढ़ बजे श्रीनगर के बाहरी इलाके में हब्बाक क्रॉसिंग के पास एक संदिग्ध आतंकी ने सीआरपीए की पोस्ट पर ग्रेनेड फेंका था. ग्रेनेड सीआरपीएफ की पोस्ट से पहले ही सड़क पर गिर गया. हमले में कुछ लोग घायल हुए थे. जांच के दौरान, सीसीटीवी फुटेज से आतंकियों की धरपकड़ की गई. पुलिस को इसमें सफलता भी मिली है.

पुलिस ने सबसे पहले एहजाज अहमद शेख और उमर हमीद शेख को गिरफ्तार किया. दोनों से कड़ी पूछताछ की. दोनों ने ग्रेनेड हमले में शामिल होने की बात स्वीकार की. दोनों ने पुलिस को बताया कि 26 नवंबर को कश्मीर यूनिवर्सिटी के पास सर सैयद गेम पर हुए ग्रेनेड हमले में भी शामिल थे.

पुलिस ने इन दोनों आतंकवादियों से पूछताछ के आधार पर साहिल फारुक गोजरी, नासिर अहमद मीर और इम्तियाज अहमद चिकला को गिरफ्तार किया है. श्रीनगर पुलिस का कहना है कि ये सभी आतंकवादी 26 जनवरी से पहले फिदायीन हमले की फिराक में थे. इसके अलावा, इनका मुख्य उद्देश्य श्रीनगर के बाहरी इलाके में शांति का माहौल बिगाड़ना था. पुलिस की जांच जारी है. जल्द ही कुछ और आतंकवादियों को गिरफ्तार कर सकती है.