BREAKING NEWS

Corona की तीसरी लहर पर बोले RSS प्रमुख Mohan Bhagwat, 'सब मिलकर लडेंगे तो जीतेंगे'

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने लोगों से कोरोना (Coronavirus) के खिलाफ लड़ाई में एकजुट और सकारात्मक बने रहने की अपील की है.

Corona की तीसरी लहर पर बोले RSS प्रमुख Mohan Bhagwat, 'सब मिलकर लडेंगे तो जीतेंगे'
नागपुर में ऑनलाइन गोष्ठी में शामिल होते हुए मोहन भागवत (साभार ANI)

मुंबई: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने लोगों से कोरोना (Coronavirus) के खिलाफ लड़ाई में एकजुट और सकारात्मक बने रहने की अपील की है. उन्होंने शनिवार को कहा कि कोरोना वायरस की पहली लहर के बाद सरकार, प्रशासन और जनता के लापरवाह होने के कारण वर्तमान स्थिति का सामना करना पड़ रहा है.

'तीसरी लहर में सब लापरवाह हो गए'

नागपुर में ‘पॉजिटिविटी अनलिमिटेड’ नाम की गोष्ठी को संबोधित करते हुए मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने कहा, ‘इस चुनौतीपूर्ण समय में एक दूसरे पर अंगुली उठाने की बजाए हमें एकजुट रहना होगा और एक टीम की तरह कार्य करना होगा.’ उन्होंने कहा, ‘हम इस परिस्थिति का सामना कर रहे हैं क्योंकि सरकार, प्रशासन और जनता, सभी कोविड की पहली लहर के बाद लापरवाह हो गए जबकि डाक्टर इसके लिए लगातार संकेत दे रहे थे.’

सरसंघचालक ने कहा कि अब तीसरी लहर (Coronavirus) की बात हो रही है. लेकिन हमें डरना नहीं है. हम चट्टान की तरह एकजुट रहेंगे. भागवत ने कहा कि देश में सभी को सकारात्मक रहना होगा और मौजूदा परिस्थिति में स्वयं को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए सावधानियां बरतनी होंगी.

'एक दूसरे पर उंगली न उठाएं'

उन्होंने कहा कि यह एक दूसरे पर अंगुली उठाने का उपयुक्त समय नहीं है. वर्तमान परिस्थितियों में तर्कहीन बयान देने से बचना चाहिए. भागवत ने कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के संदर्भ में कहा, ‘जब वि‍पत्‍त‍ि आती है तो भारत के लोग जानते हैं कि सामने जो संकट है, उसे चुनौती मानकर संकल्‍प के साथ लड़ना है.’

उन्होंने कहा, ‘लोग जानते हैं कि यह हमें डरा नहीं सकती. हमें जीतना है. जब तक जीत न जाएं तब तक लड़ना है.’ उन्होंने कहा, ‘थोड़ा सी गफलत हुई. शासन-प्रशासन और लोग..सभी गफलत में आ गए, इसल‍िए यह आया.’

VIDEO-

'हमें इस पर जीत हासिल करनी होगी'

मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने द्वितीय विश्व युद्ध के समय इंग्लैंड की स्थिति का जिक्र किया. उस समय ऐसा लग रहा था कि सब कुछ उसके वितरीत जा रहा है. तभी बाजी पलटी और इंग्लैंड युद्ध जीतता चला गया. 

ये भी पढ़ें- Corona: क्या होगा अगर आपने ले ली दो अलग-अलग वैक्सीन की डोज? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

भागवत (Mohan Bhagwat) ने ब्रिटेन के तब के प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल के बयान को दोहराते हुए कहा, ‘इस कार्यालय में कोई निराशावादी नहीं है. हमें हार की संभावना में कोई रूचि नहीं है. इसका कोई अस्तित्व नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘ऐसे ही इस परिस्थिति में हमें साहस नहीं छोड़ना है. हमें संकल्पबद्ध रहना है.’

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.