close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गणेश उत्सव के लिए मुंबई के बाजारों में आए '3डी' जेली मोदक

थ्रीडी जेली मोदक बनाने के लिए दूध, गुड़, चीनी, नारीयल का दूध, नारीयल पानी का इस्तमाल किया जाता है.

गणेश उत्सव के लिए मुंबई के बाजारों में आए '3डी' जेली मोदक

मुंबई: गणेश चतुर्थ के दिन गणपती बाप्पा विराजमान होंगे. ऐसे में घर-घर में उनके आगमन की तैयारियां चल रही है. बप्पा को खुश करने के लिए स्वादिष्ट व्यंजनों का भोग चढाया जाता है. भगवान गणेश जी को मोदक का भोग लगाया जाता है, जो कि उनका मनपसंदीदा व्यंजन माना जाता है. मुंबई में कई प्रकार के मोदक बाजार में आए है. इस साल थ्रीडी जेली मोदक के चर्चे हैं. मुंबई की प्रियंका चमणकर ने यह थ्रीडी जेली मोदक बनाए है . 

थ्रीडी जेली मोदक बनाने के लिए दूध, गुड़, पुडिंग, चीनी, नारीयल का दूध, नारीयल पानी का इस्तमाल किया जाता है. यह मोदक रेसीपी ही है, जिससे मोदक वाला स्वाद इस थ्रीडी जेली मोदक में चखने को मिलता है. मोदक के जिलेटिन पर सुई से मीठे पुडिंग से फूलों की नक्काशी बनाई गई है, और कई रंगो में इन मोदक को बनाया गया है. यह थ्रीडी जेली मोदक चार दिन तक खराब नही होते है. 

जपान के थ्रीडी जिलेटिन आर्ट मशहूर है, यू ट्यूब पर भी इसका विडियो देखा जा सकता है. प्रियंका ने इसी थ्रीडी जिलेटिन आर्ट का इस्तमाल मोदक बनाने के लिए किया है. वह अब मुंबई में कई लोगों को थ्रीडी जेली मोदक बनाने का प्रशिक्षण दे रही है .

प्रियंका का कहना है कि मैने कुछ साल पहले आर्किटक्ट का जॉब छोड़ दिया और पवई में कैफे चलाती हूं, मैंने पहले थ्रीडी जिलेटिन केक बनाए, अब गणेश उत्सव के लिए  थ्रीडी जेली मोदक बनाए है.