close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: बारिश से 5 की मौत, पुणे-मुंबई-कोंकण में रेड अलर्ट, NDRF टीम हाई अलर्ट पर

मुंबई के सांताक्रूज पूर्व में बिजली का करंट लगने से एक महिला और उसके बेटे की मौत हो गई, जबकि धरावी में एक युवक बह गया.

महाराष्ट्र: बारिश से 5 की मौत, पुणे-मुंबई-कोंकण में रेड अलर्ट, NDRF टीम हाई अलर्ट पर
लगातार हो रही बारिश को देखते हुए ठाणे, रत्नागिरी और पुणे के अधिकांश स्कूलों और कॉलेजों ने सोमवार को छुट्टी कर दी है.

मुंबई: महाराष्ट्र में लगातार हो रही भारी बारिश के चलते मुंबई और सतारा में पांच लोगों की मौत हो गई. महाराष्ट्र के बड़े हिस्से, विशेष रूप से तटीय कोंकण क्षेत्र में बारिश लगातार जारी है. इसी वजह से क्षेत्र में रविवार को ट्रेनों के आवागमन पर भी असर पड़ा है. अधिकारियों ने कहा कि ठाणे में हेलीकॉप्टरों ने 73 लोगों को बचाया और मुंबई उपनगर में फंसे लगभग 400 लोगों को बचाने के लिए नौका तैनात की गई.

वहीं, मुंबई के सांताक्रूज पूर्व में बिजली का करंट लगने से एक महिला और उसके बेटे की मौत हो गई, जबकि धरावी में एक युवक बह गया. इसके अलावा पुणे के दो व्यक्ति सतारा में एक झरने में डूब गए. उन लोगों की कार पुल पर एक बैरिकेड से टकरा गई और वे बाढ़ के पानी में बह गए. रात भर हुई लगातार बारिश के बाद, कुर्ला उपनगर के क्रांति नगर, इंदिरा नगर, जरीमरी, शंकरनगर और बैल-बाजार इलाकों के कई घरों में पानी घुस गया. एनडीआरएफ की दो टीमों ने वहां फंसे लगभग 400 निवासियों को रबड़ की नौका से बाहर निकाला. भारतीय वायुसेना ने एमआई-17 हेलिकॉप्टर तैनात किया, जिसमें 58 ग्रामीणों को बचाया गया. इनमें 18 बच्चे भी शामिल थे.

 

एक अन्य अभियान में शनिवार शाम पालघर के बुरंडा गांव में एक एमआई-17 हेलिकॉप्टर द्वारा 15 घायल ग्रामीणों को बचाया गया. एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि अभियान महाराष्ट्र सरकार के एक अनुरोध के बाद चलाए गए थे और सभी फंसे हुए लोगों को ठाणे के वायुसेना स्टेशन में सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया. वहीं, दूसरी ओर रायगढ़ जिले के कुछ गांवों में रविवार सुबह चार बजे से पांच-छह फुट गहरे पानी में लगभग 60 लोग फंसे हुए थे. उन्हें नौका के जरिए एनडीआरएफ की टीमों ने बचाया और इसी तरह पालघर के मोरी गांव में भी 40 लोगों को बचाया गया.

लगातार हो रही बारिश को देखते हुए ठाणे, रत्नागिरी और पुणे के अधिकांश स्कूलों और कॉलेजों ने सोमवार को छुट्टी कर दी है. वसई-विरार के बीच पश्चिम रेलवे (डब्ल्यूआर) की सेवा कई घंटों तक निलंबित रही, क्योंकि पटरियों पर पानी भर गया था. इस दौरान विभिन्न स्थानों पर कई ट्रेनों के मार्ग बदलने पड़े और नागपुर-मुंबई दुरंतो एक्सप्रेस जैसी ट्रेन सुबह चार बजे से इगतपुरी में ही फंसी रही. मुंबई, ठाणे और पालघर के स्टेशनों पर हजारों की संख्या में यात्री फंसे हुए थे, क्योंकि ट्रेन सेवाएं बाधित थीं.

बीएमसी, एनडीआरएफ, भारतीय सेना, नौसेना और वायुसेना के अलावा सभी अन्य एजेंसियां मुंबई और ठाणे में होने वाली किसी भी घटना के लिए हाई अलर्ट पर हैं. अधिकारियों ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर ज्यादातर उड़ानें लगभग 30 मिनट की देरी से चली. मौसम विभाग ने कहा कि रविवार सुबह तक मुंबई शहर में 142 मि. मी. बारिश दर्ज की गई, जबकि उपनगरों में 204 मि. मी. बारिश हुई.