close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

समर्थकों से मिल रहे थे राहुल गांधी, अचानक शख्‍स ने कर लिया KISS, देखें वीडियो...

दरअसल, राहुल यहां बाढ़ के कारण बेघर हुए लोगों के पुनर्वास के लिए चल रहे कार्य का वह जायजा लेने गए थे. इस दौरान जब वह अपनी कार की आगे की सीट पर बैठे थे तो एक शख्‍स उसने मिलने की ओर आगे बढ़ा. 

समर्थकों से मिल रहे थे राहुल गांधी, अचानक शख्‍स ने कर लिया KISS, देखें वीडियो...
फोटो- ANI

वायनाड (केरल) : केरल में आई बाढ़ से बेघर हुए लोगों के पुनर्वास के लिए चल रहे कार्य का वह जायजा लेने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वायनाड पहुंचे पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बुधवार को अजीब वाकये का सामना करना पड़ा, जब यहां एक शख्‍स ने उनसे मिलने के दौरान उनके गालों पर KISS कर लिया. हालांकि उनकी सुरक्षा में तैनात एसपीजी जवानों ने समय रहते इस शख्‍स को राहुल से दूर कर दिया.

दरअसल, राहुल यहां बाढ़ के कारण बेघर हुए लोगों के पुनर्वास के लिए चल रहे कार्य का वह जायजा लेने गए थे. इस दौरान जब वह अपनी कार की आगे की सीट पर बैठे थे तो एक शख्‍स उसने मिलने की ओर आगे बढ़ा. राहुल ने उनसे मिलने के लिए हाथ आगे बढ़ाया तो उस शख्‍स ने उनसे हाथ मिलाते हुए झट से उनके गालों पर किस पर लिया. इससे कुछ समय के लिए वह असहज से हो गए, लेकिन उन्‍होंने लोगों से मुलाकात जारी रखी. एसपीजी जवानों ने समय रहते इस शख्‍स को तुरंत वहां से हटा दिया. 

PAK मंत्री का राहुल पर निशाना- 'आपकी राजनीति की सबसे बड़ी समस्‍या कंफ्यूजन है'

देखें वीडियो... 

बता दें कि वायनाड केरल में बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में से एक है. इस जिले के लगभग 50,000 लोगों ने राज्य सरकार की ओर से इस महीने की शुरुआत में लगाए गए राहत शिविरों में शरण ले रखी है.

वायनाड जाने से पहले राहुल ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, "मैं अगले कुछ दिनों के लिए अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र, वायनाड में हूं. बाढ़ राहत शिविरों का दौरा करूंगा और इलाके में चल रहे पुनर्वास कार्य का जायजा लूंगा. ज्यादातर काम पूरे हो गए हैं, मगर कुछ और काम किए जाने की अभी भी जरूरत है." संभावना है कि वह 30 अगस्त को दिल्ली लौट जाएंगे.

दिन के पहले पड़ाव में राहुल राहत शिविरों में गए थे और चुंगम थलाप्पुज्हा गांव के सेंट थॉमस चर्च में ठहरे हुए बाढ़ प्रभावित लोगों के बीच उन्होंने राहत सामग्री बांटी.