close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'बापू' के जन्मदिन पर जयपुर में निकली एक अनोखी पदयात्रा, भिखारी और बेरोजगार हुए शामिल

जयपुर में एक पदयात्रा निकली थी जो कोई संदेश देने के लिए नहीं, बल्कि बापू के जन्मदिन के दिन कुछ मांगने के लिए निकली थी.

'बापू' के जन्मदिन पर जयपुर में निकली एक अनोखी पदयात्रा, भिखारी और बेरोजगार हुए शामिल
जयपुर में भिखारियों के साथ पैदल मार्च करते सांसद किरोणीलाल मीणा.

जयपुर: आज गांधी जयंती पर बापू के सिद्धांतों का संदेश देने के लिए कई पदयात्राएं जयपुर में निकली. लेकिन जयपुर में एक पदयात्रा निकली थी जो कोई संदेश देने के लिए नहीं, बल्कि बापू के जन्मदिन के दिन कुछ मांगने के लिए निकली थी.

जी हां, इस पदयात्रा के बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे. राजधानी जयपुर में निकली इस पद यात्रा में राजस्थान लोक सेवा आयोग के परीक्षा की तैयारी करने वाले इंजिनियर्स शामिल थे. इंजिनियर्स के साथ राजधानी जयपुर के चौराहों पर भीख मांग कर गुजारा करने वाले भिखारी भी इस रैली में शामिल दिखे. इस दौरान रैली में शामिल युवा और भिखारी भर्ती परीक्षा की तारीख आगे बढ़वाने के अलावा पेटभर भोजन और जीवन के अधिकार की मांग कर रहे थे.

 

आरपीएससी अभ्यर्थी मांग रहे 90 दिन का समय
इस पैदल मार्च में शामिल नौजवानों ने भर्ती परीक्षा की तारीख़ आगे बढ़वाने की मांग की. इन लोगों का कहना है कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद इंजिनियर्स भर्ती की मुख्य परीक्षा में बैठने के लिए उन्हें भी इजाजत दी गई है. लेकिन आरपीएससी उन्हें परीक्षा के लिए महज सात दिन दे रही है. इन लोगों का कहना है कि उन्हें कम से कम 90 दिन तो तैयारी के लिए मिलना चाहिए.

सांसद किरोणीलाल मीणा ने भी दिया साथ
इस पैदल यात्रा में राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने भी उनका साथ दिया. बताया जा रहा है कि इन भिखारियों को गांधी जयंती के मौके पर सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने खाना भी खिलाया. इस दौरान सांसद मीणा के साथ आए फरियादियों ने इस संबंध में एक ज्ञापन सरकार की बजाय कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नाम लिखा. जिसे किसी अधिकारी को बल्कि 'बापू' की प्रतिमा के आगे रखवा दिया गया. 

सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने कहा कि सीएम अशोक गहलोत को वे पहले ही ज्ञापन दे चुके है. लेकिन अगर उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के नाम ज्ञापन देकर गुहार लगाई है.