जयपुर: दूदू के अंबेडकर छात्रावास में मजदूरी कराने के मामले पर एक्शन, मिली चार्जशीट

राजधानी के दूदू में राजकीय अम्बेडकर छात्रावास में छात्रों से मजदूरी करवाने और हॉस्टल को निजी काम में लेने का मामले में सरकार एक्शन में आ गई है.

जयपुर: दूदू के अंबेडकर छात्रावास में मजदूरी कराने के मामले पर एक्शन, मिली चार्जशीट
23 अगस्त को अम्बेडकर छात्रावास से जुड़ा मामला सामने आया था.

जयपुर: जयपुर के दूदू में ज़ी मीडिया की ख़बर का बड़ा असर हुआ है. राजधानी के दूदू में राजकीय अम्बेडकर छात्रावास में छात्रों से मजदूरी करवाने और हॉस्टल को निजी काम में लेने का मामला सामने आया था. जिसके बाद सरकार एक्शन में आ गई है. विभाग और कलेक्टर ने कार्रवाई करते हुए हॉस्टल अधीक्षक रामकरण गुर्जर को चार्जशीट थमा दी है. साथ ही विभाग ने भी खान-पान पर नजर रखने के लिए छात्रावास में मेस कमेटी का गठन किया है. वहीं, प्रदेश के सभी हॉस्टल्स में भी आदेश दिए है कि सरकारी हॉस्टल को निजी काम में ना लें.

दरअसल बीते 23 अगस्त को अम्बेडकर छात्रावास से जुड़ा ये मामला सामने आया था. जिसमें हॉस्टल में बच्चों से मजदूरी करवाने का खुलासा हुआ था. छात्रावास को वहां के अधिकारियों ने तबेला बना रखा था और हॉस्टल में रह रहे बच्चों से इस तबेले का काम करवाया जाता था. जानकारी सामने आने के बाद एसडीएम राजेंद्र सिंह शेखावत ने टीम गठित कर हॉस्टल की जांच की तो हर तस्वीर साफ हो गई. जिसके बाद प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए प्रदेशभर के हॉस्टल्स को निर्देश जारी किए.

लोगों में है गुस्सा
राजकीय अम्बेडकर छात्रावास में ये मामला सामने आने के बाद लोगों में गहरा गुस्सा है. साथ ही हॉस्टल्स की व्यवस्थाओं के साथ ही सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हो गए है. लोगों के आक्रोश और इस बड़ी लापरवाही के देखते हुए कार्रवाई करने के साथ ही सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग ने छात्रावास में 5 सदस्यों की मेस कमेटी का भी गठन किया है.

विभाग की खुली आंखे
मामला सामने आने के बाद में जरूर विभाग की आंखे खुल गई हों. लेकिन सरकार की तरफ से भारी बजट के बावजूद दूदू के बच्चों को फल और मेनू के हिसाब से खाना क्यों नहीं दिया जाता है ये बड़ा सवाल है. वहीं यो मामला लो महद अक बानगी भर है प्रदेश में और भी कई छात्रावास ऐसे हैं जहां से ऐसी तस्वीरें सामने ही नहीं आती. बहरहाल अब इंतजार इन अदेशों के बाद होने वालों बदलावों का है.

(Written By: पुजा शर्मा)