दिल्ली की हवा ‘बेहद खराब’, प्रदूषण लेवल और ज्यादा बढ़ने की आशंका

दिल्ली की एयर क्वालिटी सोमवार को ‘खराब श्रेणी’ में पहुंच गई और प्रदूषण स्तर के और अधिक बढ़ने की आशंका है.

दिल्ली की हवा ‘बेहद खराब’, प्रदूषण लेवल और ज्यादा बढ़ने की आशंका
हवा की गति कम होने के बाद प्रदूषण स्तर और अधिक बढ़ने की आशंका जताई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में एयर क्वालिटी सोमवार को ‘बेहद खराब’ श्रेणी में बनी रही और अधिकारियों ने हवा की गति कम होने के बाद प्रदूषण स्तर और अधिक बढ़ने की आशंका जताई है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के डेटा के मुताबिक समग्र एयर क्वालिटी सूचकांक (एक्यूआई) 336 रहा जो ‘बहुत खराब’ की श्रेणी में आता है. 100 से 200 तक के एक्यूआई को ‘मध्यम’, 201 से 300 तक के एक्यूआई को ‘खराब’, 301 से 400 तक को ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 तक को ‘गंभीर’ श्रेणी में रखा जाता है.

केंद्र चालित एयर क्वालिटी एवं मौसम पूर्वानुमान प्रणाली (सफर) के मुताबिक, दिल्ली की एयर क्वालिटी सोमवार को ‘खराब श्रेणी’ में पहुंच गई और प्रदूषण स्तर के और अधिक बढ़ने की आशंका है.

सफर ने कहा, ‘‘हवा की गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ श्रेणी में अगले तीन दिन तक रहेगी और स्थिति खराब होगी. मौसम विज्ञान संबंधी चीजें भी प्रदूषक तत्व के बिखराव के लिए अनुकूल नहीं है.'

सफर ने कहा कि हवा में अतिसूक्ष्म कणों पीएम 2.5 का स्तर 169 दर्ज किया गया और पीएम 10 का स्तर 298 रहा.  इस बीच, अधिकारियों ने हवा की गति बढ़ने के साथ प्रदूषण के स्तर में गिरावट का अनुमान जताया है.

सीपीसीबी के आंकड़ों के मुताबिक, गाजियाबाद एवं नोएडा में एयर क्वालिटी ‘बेहद खराब’ रही जबकि फरीदाबाद में यह ‘खराब’ श्रेणी में रही. वहीं गुड़गांव में यह ‘मध्यम’ श्रेणी में बनी रही.

(इनपुट-भाषा)