महाराष्ट्र: NCP विधायक दल के नेता पद से हटाए जा सकते हैं अजित पवार, इस वक्‍त होगा अहम फैसला

नई सरकार बनने के बाद शरद पवार ने ट्वीट कर यह कहा कि अजित पवार का बीजेपी को समर्थन देने का फैसला उनका निजी फैसला है. 

महाराष्ट्र: NCP विधायक दल के नेता पद से हटाए जा सकते हैं अजित पवार, इस वक्‍त होगा अहम फैसला
अजित पवार (फाइल फोटो)

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में शनिवार सुबह हुए नाटकीय घटनाक्रम में जिस तरह से नई सरकार का गठन हुआ है उसने एनसीपी (NCP) को हिलाकर रख दिया है. अजित पवार (Ajit Pawar) के समर्थन से बनी इस नई सरकार को लेकर एनसीपी में भारी रोष है. सूत्रों का कहना है कि आज शाम  4.30 बजे होने वाली विधायक दल की बैठक में अजित पवार को विधायक दल के नेता पद से हटाया जा सकता है. 

बता दें एनसीपी चीफ शरद पवार (sharad pawar) ने विधायक दल की यह बैठक बुलाई है. हालांकि इस बैठक में कितने विधायक भाग लेंगे यह साफ नहीं है क्योंकि बीजेपी नेता गिरीश महाजन ने दावा किया है कि सभी एनसीपी विधायकों ने बीजेपी सरकार अपना समर्थन दिया है. महाजन ने का कहना है कि अजित पवार ने विधायक दल के नेता के तौर पर हमें समर्थन दिया है जिसका मतलब है कि सभी विधायकों का हमें समर्थन है.

इससे पहले नई सरकार बनने के बाद शरद पवार ने ट्वीट कर यह कहा कि अजित पवार का बीजेपी को समर्थन देने का फैसला उनका निजी फैसला है. शरद पवार ने कहा, 'अजित पवार का बीजेपी को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने का फैसला उनका निजी फैसला है, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का इससे कोई संबंध नहीं है। हम यह कहना चाहते हैं कि हम उनके इस फैसले का न तो समर्थन करते हैं और न ही सहमति देते हैं।' 

बता दें महाराष्ट्र में नाटकीय घटनाक्रम के तहत राज्यपाल बी.एस. कोश्यारी ने शनिवार सुबह बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस को राज्य के मुख्यमंत्री और एनसीपी नेता अजीत पवार को उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई.  दोनों नेताओं ने शनिवार सुबह लगभग आठ बजे राजभवन में एक कार्यक्रम में शपथ ली. इस दौरान बीजेपी और एनसीपी के नेताओं के साथ-साथ अन्य सरकारी अधिकारी मौजूद थे.