close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुंबई ओवर ब्रिज हादसाः अगर लोकल ट्रेन के ड्राइवर ने समय पर नहीं लगाए होते ब्रेक...

मोटरमैन चंद्रशेखर बी सावंत बोरीवली से चर्चगेट जाने वाली एक उपनगरीय ट्रेन चला रहे थे. उन्होंने अंधेरी स्टेशन पहुंचने से पहले सड़क ओवरब्रिज के एक हिस्से को नीचे गिरते हुए देखा. 

मुंबई ओवर ब्रिज हादसाः अगर लोकल ट्रेन के ड्राइवर ने समय पर नहीं लगाए होते ब्रेक...
मुंबई के उपनगर अंधेरी में रेलवे स्टेशन पर बना एक ओवरब्रिज भारी बारिश के चलते मंगलवार सुबह ढह गया. (फोटो साभार - रॉयटर्स)

मुंबई: एक सतर्क ट्रेन ड्राइवर ने मंगलवार एक बड़े हादसे को उस समय टाल दिया जब उन्होंने समय पर आपातकालीन ब्रेक लगाकर ट्रेन को उपनगर अंधेरी में सड़क ओवरब्रिज के ढहने वाले स्थान से कुछ मीटर पहले रोक दिया. मोटरमैन चंद्रशेखर बी सावंत बोरीवली से चर्चगेट जाने वाली एक उपनगरीय ट्रेन चला रहे थे. उन्होंने अंधेरी स्टेशन पहुंचने से पहले सड़क ओवरब्रिज के एक हिस्से को नीचे गिरते हुए देखा.

सावंत ने बताया , ‘मैंने तुरंत आपातकालीन ब्रेक लगाये और ट्रेन ब्रिज ढहने वाले स्थान से कुछ मीटर पहले रूक गई.’ एक अधिकारी ने कहा कि रेल मंत्री पीयूष गोयल ने सावंत की प्रशंसा करते हुये उनके लिये पांच लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है. 

47 साल पुराने गोखले ओवरब्रिज का एक हिस्सा गिरा
बता दें मुंबई के उपनगर अंधेरी में रेलवे स्टेशन पर बना एक ओवरब्रिज भारी बारिश के चलते मंगलवार सुबह ढह गया. इस वजह से लंबी दूरी की ट्रेनों सहित लोकल ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुईं. इस घटना में पांच लोग घायल भी हुए हैं. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हादसे में घायल हुए लोगों को एक-एक लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की. 

अधिकारियों ने बताया कि 47 साल पुराना गोखले ओवरब्रिज का एक हिस्सा भीड़भाड़ वाला समय शुरू होने से पहले सुबह साढ़े सात बजे गिर गया. इसी वजह से हताहतों की संख्या कम रही. आम तौर पर हजारों यात्री इस पुल का इस्तेमाल करते हैं. यह पुल अंधेरी ईस्ट को अंधेरी वेस्ट स्टेशन से जोड़ता है. 

पुल के गिरने से ओवरहेड तार फंसकर नीचे पटरियों पर गिर गए. इससे वेस्टर्न लाइन पर लोकल ट्रेन सेवाएं रुक गईं. इससे मुंबईवासियों को काफी असुविधा का सामना करना पड़ा क्योंकि लोकल ट्रेन यहां के लोगों के लिये जीवनरेखा है. कुछ लंबी दूरी की ट्रेनें रद्द भी की गईं या उनके समय में फेरबदल किया गया.

पिछले साल सितंबर में एलफिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय रेलवे स्टेशन को जोड़ने वाला एक फुट ओवरब्रिज ढह गया था, जिसके बाद मची भगदड़ में 22 लोगों की मौत हो गई थी और कई अन्य घायल हुए थे.