close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राहुल गांधी ने मुझसे कहा था, ऐसी राजनीति करनी चाहिए जो देश को जोड़ती हो: अल्पेश ठाकोर

ठाकोर ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘इस मौके पर, मैं राहुल गांधी के शब्दों को याद करता हूं. उन्होंने मुझसे कहा था, अल्पेश, हमें ऐसी राजनीति करनी चाहिए जो देश को जोड़ती हो.

राहुल गांधी ने मुझसे कहा था, ऐसी राजनीति करनी चाहिए जो देश को जोड़ती हो: अल्पेश ठाकोर
ठाकोर ने शांति और सौहार्द्र को बढ़ावा देने के लिए बृहस्पतिवार को अपने आवास के पास दिन भर का उपवास रखा. (फोटो साभार - ANI)

अहमदाबाद: गुजरात में हिंदी भाषी लोगों पर हमलों को लेकर आलोचना के घेरे में आए कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने बृहस्पतिवार को कहा कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें सलाह दी थी कि वह ऐसी राजनीति करें जो देश को जोड़ती हो. ठाकोर ने शांति और सौहार्द्र को बढ़ावा देने के लिए बृहस्पतिवार को अपने आवास के पास दिन भर का उपवास रखा.

इस दौरान ठाकोर ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘इस मौके पर, मैं राहुल गांधी के शब्दों को याद करता हूं. उन्होंने मुझसे कहा था, अल्पेश, हमें ऐसी राजनीति करनी चाहिए जो देश को जोड़ती हो.’ उन्होंने राहुल की टिप्पणी का हवाला देते हुए कहा,‘अल्पेश, हमें लोगों को प्यार की भाषा समझानी है.’ उन्होंने हालांकि यह स्पष्ट नहीं किया कि राहुल गांधी ने यह सलाह उन्हें कब दी.

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और भाजपा के अन्य नेताओं ने मांग की है कि कांग्रेस को ठाकोर के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. भाजपा ने प्रवासियों पर हमलों तथा गुजरात से उनके पलायन के लिए ठाकोर को दोषी ठहराया है.

बता दें साबरकांठा जिले में 28 सितम्बर को 14 महीने की बच्ची से बलात्कार की घटना और इस अपराध के लिए बिहार के एक मजदूर को गिरफ्तार किए जाने के बाद से गुजरात के छह जिलों में हिंदी भाषी लोगों के खिलाफ हिंसा की छिटपुट घटनाएं हुई हैं. हमलों के बाद 60 हजार से अधिक प्रवासियों को गुजरात से पलायन करना पड़ा है जिनमें अधिकतर उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के हैं.

(इनपुट - भाषा)