close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: अमित शाह ने कहा, 'कांग्रेस ने आज तक आदिवासी समाज के कल्याण के लिए कुछ नहीं किया'

अमित शाह ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री गरीब परिवार से हैं इसलिए उनको गरीबों की परेशानियां मालूम हैं. 

महाराष्ट्र: अमित शाह ने कहा, 'कांग्रेस ने आज तक आदिवासी समाज के कल्याण के लिए कुछ नहीं किया'
बीजेपी अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (फोटो साभार- @BJP4India)

मुंबई: बीजेपी (BJP) अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने महाराष्ट्र के नवापुर में आयोजित एक चुनावी में बोलते हुए कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) पर निशाना साधा. अमित शाह ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री गरीब परिवार से हैं इसलिए उनको गरीबों की परेशानियां मालूम हैं. 

अमित शाह ने कहा, 'कांग्रेस ने आज तक आदिवासी के कल्याण के लिए कुछ नहीं किया था, सिर्फ वादे किए थे। भाजपा सरकार में आदिवासी कल्याण की शुरुआत हुई और इसको नीचे तक पहुंचाने का काम हमने किया है.'

अमित शाह ने कहा, ' मुझे आज गर्व है कि नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) सरकार को आदिवासियों ने चुना है, देश के ओबीसी समाज ने चुना है. आज देश में सबसे ज्यादा जनजाति और ओबीसी के विधायक अगर किसी एक पार्टी के हैं तो वो भाजपा के हैं. 

अमित शाह ने कहा, '115 आदिवासी जिले जो विकास की दौड़ में जो पीछे रह गए थे उनको नरेंद्र मोदी जी ने सीधे प्रधानमंत्री कार्यालय से विकास करने की शुरुआत की है.  उन्होंन कहा देश में जितने भी ब्लॉक हैं उनके अंदर एकलव्य मॉडल स्कूल बनाने की शुरुआत मोदी जी ने की है.'

अमित शाह ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा, 'राहुल गांधी कहते हैं कि अनुच्छेद 370 और महाराष्ट्र का क्या संबंध है? मैं उनको बताना चाहूंगा कि ये शिवाजी महाराज और वीर सावरकर की भूमि है. इस धरती के सपूतों ने राष्ट्र की सुरक्षा में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.'

गृहमंत्री ने कहा, 'दुनिया में दो ही देश ऐसे थे जो अपने जवानों के खून का बदला लेते हैं. एक अमेरिका और दूसरा इजराइल. इन दो देशों की सूची में मोदी जी ने तीसरा नाम भारत का जोड़ने का काम किया.'

अमित शाह ने कहा कि शरद पवार हंसते हैं और कहते हैं कि मोदी जी और अमित शाह शौचालय को विकास कहते हैं. अरे पवार जी जिस घर में शौचालय नहीं होता है और मां-बहनों, बच्चियों को खुले में जाना पड़ता है, तब उनकी शर्मिंदगी आपको महसूस नहीं होगी क्योंकि आपके बच्चों ने भी कभी गरीबी नहीं देखी है.''

अमित शाह ने कहा, 'हमारे प्रधानमंत्री जी गरीब के घर से हैं उनको गरीब की परेशानी मालूम है. हमने देश में 10 करोड़ और नंदूरबार जिले में 1.67 लाख गरीब माताओं-बहनों को शौचालय देने का काम किया है.'