भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का आरोप, विदेशों में चिदंबरम की 3 अरब डॉलर की संपत्ति

अब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने चिदंबरम पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा, चिदंबरम और उनके परिवार के खिलाफ काला धन एक्ट, 4 के अंतर्गत कार्रवाई की गई है.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का आरोप, विदेशों में चिदंबरम की 3 अरब डॉलर की संपत्ति

नई दिल्ली : भाजपा ने कर्नाटक चुनाव में वोटिंग के बाद पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. पहले रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने पी चिदंबरम के खिलाफ हो रही आयकर की कार्रवाई को सही बताते हुए कहा था कि विदेशों में उनकी करोड़ों की संपत्ति है. इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष को सामने आकर जवाब देना चाहिए और उनके खिलाफ जांच करवानी चाहिए.

अब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने चिदंबरम पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा, चिदंबरम और उनके परिवार के खिलाफ काला धन एक्ट, 4 के अंतर्गत कार्रवाई की गई है. उनके विदेशों में कई अवैध अकाउंट हैं. आयकर विभाग का अनुमान है कि विदेशों में चिदंबरम की 3 अरब डॉलर की संपत्ति है.

निर्मला सीतारमण का बड़ा हमला, कहा-कांग्रेस के नवाज शरीफ हैं चिदंबरम, विदेशों में है करोड़ों की संपत्ति

भाजपा अध्यक्ष ने इस संबंध में ट्वीट करते हुए चिदंबरम के बहाने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, कालाधन मामले में मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के कहने पर तब एसआईटी क्यों नहीं बनाई. मोदी सरकार ने इस मामले में कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए एसआईटी का गठन किया.

इस नए नारे के साथ 'लोकसभा चुनाव-2019' की अपनी तैयारियों को धार देगी BJP

पी चिंदबरम पर लगाए गए आरोपों को कांग्रेस ने सिरे से खारिज कर दिया है. कांग्रेस का कहना है कि कर्नाटक चुनावों में आयकर इतनी छापेमारी की, लेकिन एक भी भाजपा कार्यकर्ता या नेता के यहां कोई छापा नहीं मारा गया. इससे समझ में आता है कि आयकर विभाग किसके कहने पर कार्रवाई कर रहा है.

आयकर विभाग ने विदेश स्थित अपनी संपत्ति का खुलासा नहीं करने को लेकर चिदंबरम की पत्नी नलिनी, बेटे कार्ति और पुत्रवधू श्रीनिधि के खिलाफ ‘काला धन अधिनियम’ के तहत चार आरोप-पत्र दाखिल किए. काला धन (अघोषित विदेशी आय एवं संपत्ति) की धारा 50 और कर अधिरोपण अधिनियम 2015 के तहत ये दाखिल किए गए. ब्रिटेन के कैम्ब्रिज स्थित 5.37 करोड़ रुपये मूल्य की अचल संपत्ति, इसी देश में 80 लाख रुपये की संपत्ति और अमेरिका में 3.28 करोड़ रुपये की संपत्ति की आंशिक या पूर्ण रूप से घोषणा नहीं करने को लेकर नलिनी, कार्ति और श्रीनिधि को आरोपित किया गया है.