कांग्रेस के मंत्री पाकिस्‍तानी सेनाध्‍यक्ष को गले लगाते हैं...सर्जिकल स्‍ट्राइक को बताया खून की दलाली : अमित शाह

उन्‍होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पुलवामा हमले पर राजनीति कर रही है. 

कांग्रेस के मंत्री पाकिस्‍तानी सेनाध्‍यक्ष को गले लगाते हैं...सर्जिकल स्‍ट्राइक को बताया खून की दलाली : अमित शाह
शाह का कांग्रेस पर हमला. फोटो ANI

नई दिल्‍ली : बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने आतंकवाद को लेकर कांग्रेस पर फिर निशाना साधा है. शाह ने आंध्र प्रदेश के राजामंड्री में लाभार्थी संपर्क अभियान में गुरुवार को कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के मंत्री पाकिस्‍तानी जनरल को गले लगाते हैं.

 

उन्‍होंने कहा कि पूरा देश शहीद जवानों के परिवारों के साथ है. आतंकियों को जवाब देने के लिए सेना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी छूट दी है. आतंकवाद के खिलाफ सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति है. उन्‍होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पुलवामा हमले पर राजनीति कर रही है. कांग्रेस ने जवानों की शहादत पर राजनीति की है.

अमित शाह ने कहा कि बीजेपी ही देश की एकमात्र पार्टी है, जिसकी नीति आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस की है. कांग्रेस पुलवामा हमले को अपने राजनीतिक फायदे के लिए इस्‍तेमाल कर रही है. उन्‍होंने हमले के दिन पीएम मोदी के एक कार्यक्रम में उपस्थित होने को लेकर मुद्दा उठाया था. लेकिन मैं उनसे कहना चाहता हूं कि पीएम मोदी दिन में लगातार 18 घंटे काम करते हैं. मेरा कांग्रेस से अनुरोध है कि वह पुलवामा हमले को राजनीतिक मुद्दा न बनाए. यह हमला उनको राजनीतिक लाभ नहीं पहुंचाएगा. उनकी देश की सुरक्षा के प्रति‍बद्धता के प्रति प्रतिबद्धता पर आपके आरोपों का देश की जनता पर कोई असर नहीं होने वाला है.

उन्‍होंने कहा कि जिस कश्‍मीर के कारण ये सब आतंकवादी घटना पाकिस्‍तान करवा रहा है, वो कश्‍मीर समस्‍या का जनक कोई और नहीं पंडित जवाहरलाल नेहरू हैं. उनके कारण आज कश्‍मीर फंसा हुआ है. अगर सरदार पटेल देश के पहले पीएम होते तो आज कश्‍मीर समस्‍या नहीं होती.