close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारतीय सेना में नौकरी का बड़ा मौका, युवाओं को अगले दो दिन यहां देना होगा टेस्ट

 भर्ती प्रक्रिया में करीब 700 से भी अधिक युवाओें ने हिस्सा लिया. रैली में दक्षिणी और उत्तरी कश्मीर के दूर-दराज इलाकों से भी युवा पहुंचे और यूनिट में लगी लंबी कतारों में खड़े रहे. 

भारतीय सेना में नौकरी का बड़ा मौका, युवाओं को अगले दो दिन यहां देना होगा टेस्ट
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

कश्मीर(खालिद हुसैन): जम्मू कश्मीर के युवाओं को रोजगार देने और उन्हें आतंकवाद की राह से दूर कर नई दिशा देने के लिए सेना ने कश्मीरी युवाओं के लिए सरकारी नौकरी के द्वार खोल दिये हैं. इसके तहत सेना की JKLI यूनिट ने 4 अक्टूबर से 6 अक्टूबर तक का दो दिवसीय भरती मुहिम शुरू की है. जिसके चलते आज भारी मात्रा में कश्मीरी युवाओं ने भर्ती प्रक्रिया में हिस्सा लिया और पूरे उत्साह के साथ JKLI यूनिट पहुंचे. बता दें सेना ने कश्मीर के कई जिलों के लिए सैकड़ों की तादात में कश्मीरी युवाओं की भर्ती का निर्णय लिया गया है और इसी के चलते दो दिन की भर्ती प्रक्रिया का आयोजन किया है.

लंबी कतारों में खड़े रहे युवा
दो दिन तक चलने वाली भर्ती प्रक्रिया में पहले दिन सैकड़ों की तादात में कश्मीरी युवाओं ने भर्ती प्रक्रिया में हिस्सा लिया. सैकड़ों युवा सुबह 6 बजे से ही श्रीनगर के JKLI यूनिट पहुंच गए. भर्ती प्रक्रिया में करीब 700 से भी अधिक युवाओें ने हिस्सा लिया. रैली में दक्षिणी और उत्तरी कश्मीर के दूर-दराज इलाकों से भी युवा पहुंचे और यूनिट में लगी लंबी कतारों में खड़े रहे. इसके साथ ही युवाओं ने सेना के इस कदम की काफी सराहना भी की और कहा कि 'भर्ती प्रक्रिया में चयन के लिए वह अपनी पूरी ताकत लगा देंगे और सफल होंगे.' 

कश्मीर के पत्थरबाजों को दिल्ली पुलिस दिखाएगी रोजगार की राह 

सेना में शामिल होने को लेकर उत्साह
युवाओं ने आगे कहा कि 'वह भारतीय सेना का हिस्सा बनकर देश की रक्षा करना चाहते हैं. इसलिए वह सफलता पाने के लिए हर मुमकिन कोशिश करेंगे.' कश्मीरी युवाओं के मुताबिक सेना में भर्ती होकर उनका जीवन सफल हो जाएगा. सेना के इस कदम से देश सेवा के साथ ही कश्मीर में फैली बेरोजगारी भी मिटेगी. वहीं सेना के मुताबिक, कश्मीरी युवाओं में सेना में शामिल होने को लेकर काफी उत्साह है और यह एक बदलाव का संकेत है. इस बदलाव से कश्मीर के युवा गलत रास्तों पर जाने से बचेंगे और साथ ही कश्मीर में फैली बेरोजगारी भी कम होगी.

DNA : सैटेलाइट बनाने वाले युवा vs पत्थर फेंकने वाले युवा

एक पद के लिए दस उम्मीद्वार
ब्रिगेडियर एस.अर. शर्मा कमांडेंट JKLI रेजिमेंटल सेंट्रल कश्मीर के मुताबिक 'सेना में शामिल होने को लेकर कश्मीरी युवाओं में उत्साह साफ देखा जा सकता है. युवाओं के उत्साह को देखते हुए सेना और भी कई जगहों पर ऐसी ही मुहिम चलाने की तैयारी कर रही है, ताकि कश्मीर की सबसे बड़ी समस्या 'बेरोजगारी' से यहां युवाओं को निजात मिल सके.' सेना के मुताबिक, 200 खाली पदों की भर्ती के लिए राज्य से अब तक करीब 2000 युवा अपना फिजिकल टेस्ट देने पहुंचे हैं. जिससे साफ जाहिर है कि एक रिक्त पद के लिए 10 उम्मीद्वार हैं.