महाराष्ट्र में सरकार बनाने से दूर रह गई BJP के लिए राज्य से आई एक और बुरी खबर

विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी के लिए यह एक बड़ा झटका है. 

महाराष्ट्र में सरकार बनाने से दूर रह गई BJP के लिए राज्य से आई एक और बुरी खबर
(फाइल फोटो)

लातूर: मराठावाड़ा की लातूर (Latur) नगर निगम में मेयर (Mayor) और डिप्टी मेयर (Deputy Mayor) के पद के चुनाव बीजेपी (BJP) हार गई है . 70 पार्षदों वाली लातूर नगर निगम में बहूमत के बावजूद बीजेपी को मेयर पद चुनाव में हार का सामना करना पडा . उसके दो पार्षदों ने पाला बदला और कांग्रेस (Congress) उम्मीदवार के पक्ष में वोट किया .

महाराष्ट्र में सरकार बनाने से चुकने के बाद अब स्थानिय निकायों में भी बीजेपी की सत्ता पर असर दिखना शुरु हुआ है. ढाई-ढाई साल का मेयर पद का कार्यकाल महाराष्ट्र में होता है.

ढ़ाई साल पहले लातूर नगर निगम में बीजेपी ने जीत हासिल की थी. बीजेपी को तब 36 सीटे मिली थी जबकि कांग्रेस के 33 पार्षद ही जीते थे. मेयर पद भी बीजेपी ने जीता था. 

शुक्रवार को हुए मेयर और डिप्टी मेयर पद के चुनाव में हाथ उपर कर मेयर और डीप्टी मेयर पद के लिए वोट गिने गए . मेयर पद के कांग्रेस उम्मीदवार विक्रांत गोजमुंडे को 35 वोट मिले . तो वही बीजेपी के शैलेश गोजमुंडे को 33 वोट मिले.

बीजेपी के लिए यहा बडा झटका है . बीजेपी के दो पार्षदों ने कांग्रेस के पक्ष में वोट किया है . लातूर नगर निगम में बहुमत के बावजूद बगावत के चलते बीजेपी को सत्ता से हाथ धोना पडा है.

लातूर जिला यह कांग्रेस का गड़ रहा है . कांग्रेस के दिवंगत नेता और महाराष्ट्र के पर्व मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख का इस जिले पर प्रभाव रहा है . उनके बाद उनका बडा बेटा अमित देशमुख ने लातूर में कांग्रेस को मजबूती देने कि कोशिश की लेकिन 2014 में महाराष्ट्र से कांग्रेस के सत्ता जाने के बाद से यहां बीजेपी का प्रभाव बड़ा है.

इस विधानसभा चुनाव में लातूर शहर और लातूर ग्रामिण दोनों विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस जीती है. अमित देशमुख ने लातूर शहर से चुनाव जीता तो उनके छोटे भाई धीरज देशमुख ने लातूर ग्रामीण सीट हासिल की. अब महाराष्ट्र की सत्ता में बीजेपी नही है , शिवसेना - कांग्रेस -एनसीपी की सरकार महाराष्ट्र में बनाने जा रही है.

(इनपुट - शशिकांत पाटिल)

ये भी देखें -