कांग्रेस के बालासाहेब थोराट बन सकते हैं महाराष्ट्र के डिप्टी CM, आलाकमान आज लगा सकता है मुहर

सूत्रों के अनुसार एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस नेताओं का दबाव है कि उद्धव ठाकरे को महाविकास आघाड़ी का मुख्यमंत्री बनना चाहिए. एनसीपी ने अपने संभावित मंत्रियों के नामों पर चर्चा शुरू की है.

कांग्रेस के बालासाहेब थोराट बन सकते हैं महाराष्ट्र के डिप्टी CM, आलाकमान आज लगा सकता है मुहर
(फाइल फोटो)

मुंबई: महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस के गठंबधन की सरकार को लेकर बड़ी खबर आ रही है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष बालासाहब थोराट (Balasaheb Thorat) नई सरकार में डिप्टी चीफ मिनिस्टर बन सकते है. ऐसा बताया जा रहा है कि दिल्ली में कांग्रेस हाइकमान की आज थोराठ के नाम पर मुहर लग सकती है. खबरों की मानें तो शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस की सरकार में उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री हो सकते है, वहीं अजीत पवार और  बालासाहेब थोराट के उपमुख्यमंत्री बनने की संभावना है. 

हालांकि यह भी खबर है कि अजीत पवार ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री बनने का दबाव बना रहे है. सूत्रों के अनुसार एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस नेताओं का दबाव है कि उद्धव ठाकरे को महाविकास आघाड़ी का मुख्यमंत्री बनना चाहिए. एनसीपी ने अपने संभावित मंत्रियों के नामों पर चर्चा शुरू की है.

इन नामों में अजित पवार, दिलीप वलसे पाटिल, छगन भुजबल, धनन्जय मुंडे, जीतेंद्र आव्हाड, हसन मुश्रिफ, अनिल देशमुख, नवाब मलिक जैसे नामों की चर्चा है. वहीं कांग्रेस की तरफ से बालासाहेब ठाकरे उप मुख्यमंत्री बन सकते है. 
इनके अलावा अशोक चव्हाण, पृथ्वीराज चव्हाण, यशोमती ठाकुर, विजय वडेट्टीवार, विश्वजीत कदम, अमित देशमुख, माणिकराव ठाकरे का नाम भी आगे है.

यह भी पढ़ेंः- महाराष्ट्र: कुर्सी के लिए 'सेक्युलर' बनने को तैयार शिवसेना, कल सरकार गठन पर फैसला संभव

बालासाहेब के सिद्धातों के खिलाफ बन रहा है शिवसेना-NCP-कांग्रेस का गठबंधन: आठवले
महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन को लेकर केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले (Ramdas Athawale) ने कहा है कि यह गठबंधन अस्वाभाविक है, कितने दिन चलेगा पता नहीं. आरपीआई नेता ने कहा, 'शिवसेना बालासाहब ठाकरे का  नाम आगे करके राजनीति कर रही है. यह गठबंधन बालासाहब के सिद्धांतों के खिलाफ बन रहा है. फिर भी उद्धव ठाकरे को सीएम पद के लिए शुभकामनाएं.' महाराष्ट्र के राजनैतिक हालात पर रामदास आठवले ने कहा, मैनें जो फॉर्मूला दिया था उस पर बीजेपी के तरफ से कोई जवाब नहीं मिला. मेरे प्रयास अभी भी जारी है.'

यह भी पढ़ें- शिवसेना की सरकार में कांग्रेस का तीसरे नंबर की पार्टी बनना दफन होने जैसा: संजय निरुपम

आठवले ने बताया कि शिवेसना नेता संजय राऊत से उनकी कल भी मुलाकात हुई थी, उन्होंने 3 साल बीजेपी और 2 साल शिवसेना के सीएम फार्मूला बताया था. आरपीआई नेता ने कहा कि यदि उद्धव ठाकरे के सीएम बनने का प्रस्ताव पहले सही रूप में सामने आया होता तो बीजेपी ने समर्थन दे दिया होता. करे का नाम भी आगे है.