मोहल्ला क्लीनिक के मुरीद हुए UN के पूर्व महासचिव बान की मून, केजरीवाल की जमकर की तारीफ

बान की मून ने कहा कि वह गरीबों और जरूरतमंदों को प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवा मुहैया कराने की केजरीवाल की कड़ी प्रतिबद्धता तथा दृष्टिकोण से बेहद प्रभावित और गदगद हैं.

मोहल्ला क्लीनिक के मुरीद हुए UN के पूर्व महासचिव बान की मून, केजरीवाल की जमकर की तारीफ
बान की मून ने कहा,‘मोहल्ला क्लीनिक और पॉलीक्लीनिक इसके अच्छे उदाहरण हैं. मैं उम्मीद करता हूं कि केन्द्र सरकार के स्तर पर भी इसमें और अधिक सहयोग मिलेगा.’ (फोटो साभार: @AamAadmiParty)

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव बान की मून ने नॉर्वे की पूर्व प्रधानमंत्री ग्रो हर्लेम ब्रंटलैंड के साथ आम आदमी पार्टी सरकार की मोहल्ला क्लीनिक परियोजना के तहत बने स्वास्थ्य सुविधा केंद्र का शुक्रवार को दौरा किया और इसकी जम कर सराहना की.

मून और ब्रंटलैंड ने पीरागढ़ी में मोहल्ला क्लीनिक और पश्चिम विहार इलाके में एक पॉलीक्लीनिक का दौरा किया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन इस दौरान उनके साथ थे. 

मून ने कहा कि वह गरीबों और जरूरतमंदों को प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवा मुहैया कराने की केजरीवाल की कड़ी प्रतिबद्धता तथा दृष्टिकोण से बेहद प्रभावित और गदगद हैं. उन्होंने कहा,‘मोहल्ला क्लीनिक और पॉलीक्लीनिक इसके अच्छे उदाहरण हैं. मैं उम्मीद करता हूं कि केन्द्र सरकार के स्तर पर भी इसमें और अधिक सहयोग मिलेगा.’ 

 Ban Ki-moon 'deeply impressed' by Delhi's Mohalla Clinic project
UN के पूर्व महासचिव बान की मून और नॉर्वे की पूर्व प्रधानमंत्री ग्रो हर्लेम ब्रंटलैंड ने किया मोहल्ला क्लीनिक का दौरा. (फोटो साभार - PTI)

केजरीवाल ने मून और ब्रंटलैंड को मोहल्ला क्लीनिकों की स्थापना में आईं अनेक राजनीतिक बाधाओं और इसमें हुईं दखलंदाजियों के बारे में बताया, हालांकि उन्होंने केन्द्र का नाम नहीं लिया.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा,‘पिछले ढ़ाई वर्षों में अनेक बाधाओं के कारण हम कोई काम नहीं कर सके लेकिन उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद हमें उम्मीद है कि अगले कुछ महीनों में हम एक हजार मोहल्ला क्लीनिक स्थापित कर पाएंगे.’

बता दें मून और ब्रंटलैंड एक संगठन के प्रतिनिधिमंडल के तौर पर भारत के दौरे पर आए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन की महानिदेशक रह चुकीं ब्रंटलैंड ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक और पॉलीक्लीनिक में होने वाले कार्य बेहद प्रभावित करने वाले हैं.