बाड़मेर कार रेस मौत: प्रशासन की समझाईश हुई पूरी, दोषियों पर कार्रवाई का आश्वासन

इस दौरान बाड़मेर के जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित कई नेता और ग्रामीण समदड़ी थाने में वार्तालाप कर समझाईश की. प्रशासन के मुआवजे के आश्वासन के बाद परिजन शव उठाने को राजी हुए हैं.

बाड़मेर कार रेस मौत: प्रशासन की समझाईश हुई पूरी, दोषियों पर कार्रवाई का आश्वासन
सीएम ने इस घटना को गंभीरता से लिया है.

भुपेश आचार्य, बाड़मेर: शनिवार को बाड़मेर जिले के समदड़ी थाने में शनिवार को कार रेसिंग हिट एंड रन मामले में 3 लोगों की मौत हो गई थी. घटना के 36 घंटे बाद बाड़मेर के जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी लेने के बाद परिवार वालों से मिलकर मौके से शवों को ले जाकर मोर्चरी में रखवाया.

इस दौरान बाड़मेर के जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित कई नेता और ग्रामीण समदड़ी थाने में वार्तालाप कर समझाईश की. प्रशासन के मुआवजे के आश्वासन के बाद परिजन शव उठाने को राजी हुए हैं. वहीं, इस मामले में राज्य सरकार ने जिला कलेक्टर और एसपी को भी एपीओ कर दिया है.

एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत 
गौरतलब है की इंडियन नेशनल रैली तीन चैंपियनशिप के दूसरे दिन समदड़ी थाना क्षेत्र के होतरड़ा गांव में कार रेसिंग ने एक ही परिवार की तीन जिंदगियां लील लीं. होतरड़ा सरहद में घर से खेत जा रहे बाइक सवार दपंती ने सामने से 150 किमी की रफ्तार में आती कार को देख कच्ची सड़क पर बाइक साइड में खड़ी कर ली, लेकिन अनियंत्रित कार ने बाइक समेत तीनों को चपेट में ले लिया. 

हादसा था काफी भीषण
बताया जा रहा है कि हादसा इतना भीषण था कि बाइक सवार तीनों पति-पत्नी व बेटा 20 फीट उछलकर सड़क पर गिर गए, तभी पीछे से आ रही तेज रफ्तार तीन अन्य कारें भी इन्हें कुचलते हुए निकल गईं. 

प्रशासन ने की समझाइश
घटना के बाद मृतकों के परिजन आयोजकों की गिरफ्तारी व 2 करोड़ के मुआवजे की मांग को लेकर अड़े हुए थे. जिसके बाद पुलिस अधीक्षक और ज़िला कलेक्टर ने रविवार को समदड़ी पहुंचकर ग्रामीण और परिजनों से समझाईश की. इस दौरान ग्रामीण और परिजनों को कार्रवाई का भरोसा दिया. 

सीएम राहत कोष से मिलेगा 1 लाख
ज़िला कलेक्टर ने मृतक को मुख्यमंत्री राहत कोष से एक-एक लाख रुपए की मुआवजा राशि देने की घोषणा की. इसके अलावा प्रशासन ने दोषियों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही की बात कही है. मृतकों के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को शव सुपुर्द किया. मृतकों के शव का अंतिम संस्कार हो चुका है.

इस मामले में स्थानीय विधायक ने जिला प्रशासन की काफी प्रशंसा की. उन्होंने पीड़ित परिवार को सरकार और कंपनी की तरफ से हर संभव मदद करवाने की बात कही है.

सीएम गहलोत ने भी की है कार्रवाई
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बाड़मेर जिले के समदड़ी थाना क्षेत्र में शनिवार को कार रेसिंग के दौरान हुई दुर्घटना में तीन व्यक्तियों की मौत की घटना को अत्यंत गंभीरता से लिया है. प्रकरण में जिला कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक को एपीओ कर दिया गया है. इसके अलावा संभागीय आयुक्त को इस मामले की विस्तृत जांच कर 7 दिन में गृह विभाग को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं.