close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पंजाब : शाहकोट उपचुनाव के पहले AAP के दो नेता शिरोमणि अकाली दल में शामिल

शाहकोट सीट पर उपचुनाव शिरोमणि अकाली दल के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व मंत्री अजीत सिंह कोहड़ के निधन के कारण हो रहा है.

पंजाब : शाहकोट उपचुनाव के पहले AAP के दो नेता शिरोमणि अकाली दल में शामिल
आप नेता एचएस वालिया ने शिरोमणि अकाली दल की सदस्यता ग्रहण कर ली है

चंडीगढ़ : पंजाब में शाहकोट विधानसभा सीट पर 28 मई को होने वाले उपचुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (आप) के दो नेता एचएस वालिया और सीडी कंबोज अपने समर्थकों के साथ शिरोमणि अकाली दल में शामिल हो गये. अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल की मौजूदगी में दोनों पार्टी में शामिल हुए. दोनों नेताओं का पार्टी में स्वागत करते हुए सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि इन नेताओं के अकाली दल से जुड़ने से पार्टी को दोआब क्षेत्र के साथ ही समूचे पंजाब में मजबूती मिलेगी. 

कंबोज बीएसपी की पंजाब इकाई के अध्यक्ष रह चुके हैं और कांग्रेस के टिकट पर शाहकोट से दो बार चुनाव भी लड़ चुके हैं. वर्ष 2015 में वह कांग्रेस छोड़कर 'आप' में शामिल हो गए थे. इससे पहले आप नेता एचएस वालिया भी अकाली दल में शामिल हुए. वह 2017 में जालंधर छावनी सीट से विधानसभा का चुनाव लड़े थे. 

वालिया ने कहा कि अकाली दल की जन समर्थक नीतियों के कारण वह पार्टी में शामिल हुए हैं क्योंकि पार्टी समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर चलना चाहती है. वालिया ने आरोप लगाया, ‘मैं आदर्शवाद से प्रभावित होकर आप से जुड़ा था. धीरे-धीरे मुझे अहसास हुआ कि पार्टी भ्रष्ट हो चुकी है और वह पंजाबियों और उनकी समस्याओं के लिए चिंतित नहीं है. साथ ही आप का संचालन दिल्ली से होता है और अरविंद केजरीवाल स्थानीय नेतृत्व को तवज्जो नहीं देते है.’ 

13 उम्मीदवार मैदान में
बता दें कि शाहकोट सीट पर उपचुनाव शिरोमणि अकाली दल के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व मंत्री अजीत सिंह कोहड़ के निधन के कारण हो रहा है. कोहाड़ का 4 फरवरी को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था. अकाली दल ने नायब सिंह कोहाड़ का यहां से अपना उम्मीदवार घोषित किया है. शाहकोट सीट अकाली दल का गढ़ मानी जाती है. कांग्रेस ने यहां से पिछले चुनाव में हरदेव सिंह लाडी को अपना उम्मीदवार बनाया था, पार्टी इस बार भी पार्टी उन्हें अपना प्रत्याशी बनाने जा रही थी, लेकिन एक मामले में स्टिंग होने पर कांग्रेस को उन्हें दावेदारी से हटाना पड़ा था. कांग्रेस ने उनके स्थान पर हरदेव सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है. इस उपचुनाव में अब कुल 13 प्रत्याशी मैदान में हैं. 

SAD ने लगाए राज्य सरकार पर गंभीर आरोप
शिरोमणि अकाली दल ने प्रदेश की कांगेस सरकार उपचुनाव में सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग करने का आरोप लगाते हुए निर्वाचन आयोग से आचार संहिता के हो रहे उल्लंघन पर कड़ा संज्ञान लेने की अपील की है. अकाली दल के प्रवक्ता दलजीत सिंह चीमा ने आरोप लगाया कि पंजाब में सत्तारूढ़ कांग्रेस अकाली दल कार्यकर्ताओं पर दवाब डालने के लिए खुलेआम सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर रही है. 

चीमा ने कहा कि कांग्रेस में शामिल होने से इंकार करने पर शाहकोट विधानसभा क्षेत्र के मुलेवाल खेडा के अकाली दल के सरपंच के घर पर बिजली विभाग की एक टीम ने छापेमारी की और बिजली का कनेक्शन काट दिया और कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन नहीं करने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी भी दे दी.