close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाली: जानवरों के शिकार की खबर सुन विश्नोई समाज ने काटा बवाल, जानिए पूरा मामला

पाली(Pali) जिले के रोहट के निकटवर्ती धोलेरिया शासन गांव की सरहद में शनिवार को बड़ी संख्या में जानवरों के शिकार होने की जानकारी मिलने के बाद विश्नोई समाज(Bishnoi Community) के लोग नाराज हो गए.

पाली: जानवरों के शिकार की खबर सुन विश्नोई समाज ने काटा बवाल, जानिए पूरा मामला
पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

सुभाष रोहिषवाल, पाली: पाली(Pali) जिले के रोहट के निकटवर्ती धोलेरिया शासन गांव की सरहद में शनिवार को बड़ी संख्या में जानवरों के शिकार होने की जानकारी मिलने के बाद विश्नोई समाज(Bishnoi Community) के लोग नाराज हो गए. इस दौरान विवाद बढ़ता देख पुलिस जाब्ता भी मौके पर पहुंचा.

सूचना मिलने पर वन विभाग(Forest Department) के वनपाल कुंदन सिंह, भीकदान चारण मौके पर पहुंचे. इस दौरान एक खेत में ट्रैक्टरों व अन्य वाहनों की तलाशी की गई. तलाशी के दौरान चार कार्टुन, दो थैलों में भरा कच्चा व सुखाया हुआ मांस, एक सुअर की खाल व एक सुअर का जबड़ा बरामद किया. वन विभाग ने 6 लोगों को हिरासत में भी लिया है. मौके पर विश्नोई समाज ने शिकार की घटना पर आक्रोश जताते हुए डीएफओ को मौके पर बुलाने की मांग की. इस दौरान देर शाम तक डीएफओ के मौके पर नहीं पहुंचने के बाद माफी मांगने की मांग भी रखी. 

देर राज मौके पर पहुंचे डीएफओ
आखिर रात 11 वजे डीएफओ मौके पर पहुंचे. जिसके बाद कार्रवाई शुरू की गई. इस दौरान तलाशी लेने के दौरान, 1 बंदूक व चाकू, छुरे भी बरामद किये गये. रोहट तहसीलदार खीमाराम देवड़ा, रोहट थानाधिकारी कमलेश मय जाब्ता मौके पर पहुंचे. थानाधिकारी ने मौके से 9 ट्रैक्टर, 4 मिनी बस, एक जीप सहित सौलह वाहनों के कागजाद चेक कर व्हीकल अधिनियम के तहत व हथियार अधिनियम के तहत कार्यवाही की बात कही. प्रथम दृष्टया बन्दूक एयरगन बतायी गयी.

सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी फोटो
बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया पर मांस सुखने की फोटो वायरल हुई थी. इस दौरान विश्नोई समाज के लोगों को सुअरों के साथ हिरण के शिकार की जानकारी मिली थी. जिसके बाद विश्नोई समाज के लोग बड़ी संख्या में मौके पर जमा हो गए.  देर शाम को बीटीएफ प्रदेशाध्यक्ष रामपाल भवाद भी मौके पर पहुंचे. इस दौरान बीटीएफ जिलाध्यक्ष भेराराम, सहित बड़ी संख्या में विश्नोई समाज के लोग मौजूद रहे.

मौके पर खेत में सोलह वाहनों में बच्चे, महिलाओं व पुरूषों सहित करीब 80-90 अलग अलग परिवारों के लोग थे जो देशी दवाईयां व जड़ी बूटियां बेचने की बात बता रहे थे. इन लोगों ने बताया कि गांव के लोगों ने ही इनको सुअरों को मारने के लिए दो तीन दिन पहले ही बिठाया था. इन लोगों ने खाने पीने की सामग्री भी दी. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.