close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

BJP प्रतिनिधिमंडल ने किया भाटपाड़ा का दौरा, पुलिस गोलीबारी में दो की मौत होने का किया दावा

पूर्व केंद्रीय मंत्री एस एस अहलूवालिया  ने कहा,‘हम अपनी विस्तृत रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री अमित शाह को सौंपेंगे. वह इलाके में जारी हिंसा को लेकर चिंतित हैं.’

BJP प्रतिनिधिमंडल ने किया भाटपाड़ा का दौरा, पुलिस गोलीबारी में दो की मौत होने का किया दावा
वर्धमान-दुर्गापुर से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अहलूवालिया के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल में सांसद और पूर्व पुलिस अधिकारी सत्यपाल सिंह और बी डी राम भी शामिल थे. (फोटो साभार- IANS)

कोलकाता: पूर्व केंद्रीय मंत्री एस एस अहलूवालिया के नेतृत्व में बीजेपी के तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को हिंसा प्रभावित भाटपाड़ा का दौरा किया और आरोप लगाया कि गुरुवार को हुई पुलिस गोलीबारी की वजह से दो लोगों की जान गई.

वर्धमान-दुर्गापुर से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अहलूवालिया के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल में सांसद और पूर्व पुलिस अधिकारी सत्यपाल सिंह और बी डी राम भी शामिल थे. राज्य बीजेपी के नेता भी केंद्रीय प्रतिनिधिमंडल के साथ थे. सिंह और राम क्रमश: उत्तर प्रदेश और झारखंड से सांसद हैं. 

'हमने परिवार के सदस्यों और स्थानीय लोगों से बात की' 
अहलूवालिया ने कहा, ‘हमने परिवार के सदस्यों और स्थानीय लोगों से बात की. हमें सेल्फ लोडिंग राइफल की गोलियों के खोखे मिले हैं जिनका इस्तेमाल गुरुवार को पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर किया था.’ 

उत्तरी 24 परगना जिले के इस कस्बे में गुरुवार को दो समूहों के बीच हुई झड़प के बाद दो लोगों की मौत हो गई थी जबकि 11 अन्य जख्मी हो गए थे. माना जा रहा है कि ये समूह तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों के थे. 

'विस्तृत रिपोर्ट अमित शाह को सौंपेंगे' 
उन्होंने कहा,‘पुलिस कह रही है कि उन्होंने हवा में गोलियां चलाईं. अगर उन्होंने ऐसा किया तो वह इंसानों को कैसे लग सकती है? बीजेपी नेता ने कहा,‘हम अपनी विस्तृत रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री अमित शाह को सौंपेंगे. वह इलाके में जारी हिंसा को लेकर चिंतित हैं.’

पुलिस और सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने इस आकलन को निराधार बताया. तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा कि बीजेपी प्रतिनिधिमंडल का दौरा इलाके में तनाव बढ़ाने के मकसद से था. 

उन्होंने पूछा,‘उनके दौरे का उद्देश्य क्या था. इलाके में धारा 144 लागू है लेकिन बीजेपी वहां जा रही है. पुलिस को धारा 144 के उल्लंघन पर उनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.’ एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बीजेपी नेतृत्व ने दौरे के लिए पूर्व अनुमति ली थी. 

इससे पहले दिन में विधानसभा में नेता विपक्ष अब्दुल मन्नान के नेतृत्व में माकपा और कांग्रेस के एक संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने प्रभावित इलाकों बरयुईपाड़ा, जगददल, भाटपाडा़ का दौरा किया. उन्होंने दो लोगों की हत्या की सीबीआई से जांच की मांग की. 

शुक्रवार को बीजेपी नेतृत्व ने भी इस घटना का सच सामने लाने के लिये सीबीआई जांच की मांग की थी और इन हत्याओं के खिलाफ राज्यव्यापी धरना-प्रदर्शन किया था. लंबे समय से तृणमूल कांग्रेस का गढ़ रहे भाटपाड़ा में चुनाव के बाद विरोधी गुटों में संघर्ष के मामले कई बार सामने आ चुके हैं.