close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र में नाराज चल रहे BJP नेता खड़से बोले- NCP नहीं जा रहा, लेकिन पार्टी भी मुझे कारण बताए

गुरुवार को खड़से (Khadse) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपना पक्ष स्पष्ट कर दिया है. महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और बीजेपी (BJP) नेता एकनाथ खड़से ने कहा, "मैं एनसीपी (NCP) में नहीं जा रहा हूं, शरद पवार (Sharad Pawar) या अजित पवार (Ajit Pawar) के संपर्क में नहीं हूं".

महाराष्ट्र में नाराज चल रहे BJP नेता खड़से बोले- NCP नहीं जा रहा, लेकिन पार्टी भी मुझे कारण बताए
(फाइल फोटो)

मुंबई: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections) के लिए बीजेपी (BJP) ने उम्मीदवारों की पूरी लिस्ट जारी कर चुकी है. गौरतलब है कि पहली सूची में अपना नाम नहीं आने से नाराज वरिष्ठ बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से (BJP leader Eknath Khadse) ने मंगलवार को जलगांव जिले की मुक्तईनगर सीट से निर्दलीय प्रत्याशी (Independent candidate) के रूप में नामांकन (Nomination) पत्र दाखिल कर दिया था. अपने साथ हुए बर्ताव पर अप्रसन्नता जाहिर करते हुए राज्य के पूर्व मंत्री ने उस वक्त कहा था कि अगर पार्टी के प्रति वफादार बने रहना अपराध है तो उन्होंने यह अपराध किया है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व मंत्री के इस बयान के बाद सियासी गलियारे में चर्चा दौड़ी कि जल्द ही एकनाथ (Eknath Khadse) भी पाला बदल सकते हैं. लेकिन, आखिरकार गुरुवार को खड़से (Khadse) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपना पक्ष स्पष्ट कर दिया है. महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री और बीजेपी (BJP) नेता एकनाथ खड़से ने कहा, "मैं एनसीपी (NCP) में नहीं जा रहा हूं, शरद पवार (Sharad Pawar) या अजित पवार (Ajit Pawar) के संपर्क में नहीं हूं".

एकनाथ खड़से (Eknath Khadse) ने आगे कहा, "मेरे एनसीपी (NCP) में जाने की बातें सारी अफवाहें हैं. कोई विश्वास ना रखे. लेकिन पार्टी मुझे बताए कि मुझे उम्मीदवारी क्यों नहीं देना चाहते". इसके साथ ही प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press conference) के दौरान एकनाथ खड़से ने अपने समर्थकों को शांत रहने की अपील की है. खड़से (Khadse) ने कहा, "पार्टी के विस्तार के लिए वहां मैंने कार्य किया, जहां बीजेपी नहीं थी वहां संगठन खड़ा किया है. बीजेपी (BJP) जो निर्णय लेगी वह मान्य होगा". सूत्रों की मानें तो एकनाथ खड़से के बजाए उनकी बेटी रोहिणी खड़से (Rohini Khadse) को टिकट (Ticket) दिया जा सकता है.

देखें लाइव टीवी

आपको बता दें कि खड़से (Khadse) ने पुणे (Pune) एमआईडीसी इलाके में एक भूखंड खरीदने में अपने अधिकारों का दुरुपयोग करने के आरोपों के बाद जून 2016 में राज्य के राजस्व मंत्री के पद से इस्तीफा (resign) दे दिया था. खड़से को महाराष्ट्र (Maharashtra) में बीजेपी (BJP) का प्रमुख ओबीसी चेहरा (OBC face) माना जाता था. यहां आपको यह भी बता दें कि बीजेपी ने मंगलवार को 125 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी जिसमें खड़से का नाम नहीं था. इसके बाद बीजेपी (BJP) ने बुधवार रात अपनी दूसरी सूची जारी कर दी. इस सूची में भी पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से (Eknath Khadse), स्कूली शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े (Vinod Tawde) और ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले (Chandrasekhar Bawankule) का नाम नहीं था.