दाभोलकर हत्याकांड: CBI को मिली 'दूसरे शूटर' की हिरासत, ATS ने किया था गिरफ्तार

मुंबई की एक अदालत ने सोमवार को हथियार बरामद होने के मामले के आरोपी शरद कालास्कर को सीबीआई की हिरासत में भेज दिया. 

दाभोलकर हत्याकांड: CBI को मिली 'दूसरे शूटर' की हिरासत, ATS ने किया था गिरफ्तार
आंदुरे कथित तौर पर मुख्य शूटर था, जिसे पिछले महीने गिरफ्तार किया गया था.(फाइल फोटो)

मुंबई: मुंबई की एक अदालत ने सोमवार को हथियार बरामद होने के मामले के आरोपी शरद कालास्कर को सीबीआई की हिरासत में भेज दिया. सीबीआई अंधविश्वास के खिलाफ अलख जगाने वाले नरेंद्र दाभोलकर की हत्या में उसकी कथित भूमिका की सीबीआई जांच कर रही है. कालास्कर को पिछले महीने महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने राज्य के विभिन्न हिस्सों से हथियार और गोला-बारूद की बरामदगी के सिलसिले में गिरफ्तार किया था. कालास्कर और तीन अन्य आरोपियों को हथियार बरामदगी मामले में उनकी पुलिस हिरासत की अवधि समाप्त होने पर अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विनोद पंडाल्कर के समक्ष पेश किया गया.

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा दायर आवेदन पर न्यायाधीश ने दाभोलकर हत्या मामले में कालास्कर को सीबीआई की हिरासत में भेज दिया. सीबीआई ने इस आधार पर कालास्कर की रिमांड मांगी थी कि दाभोलकर हत्या मामले में उसकी कथित भूमिका का पता लगाने के लिये उससे हिरासत में पूछताछ की जरूरत है.

दाभोलकर और गौरी लंकेश की हत्या के मामले एक-दूसरे से जुड़े हैं : सीबीआई

सीबीआई ने अपने आवेदन में कहा था कि एजेंसी को सचिन आंदुरे के साथ उसके संबंधों का पता लगाने की आवश्यकता है. आंदुरे कथित तौर पर मुख्य शूटर था, जिसे पिछले महीने गिरफ्तार किया गया था. सीबीआई ने कहा कि आंदुरे से पूछताछ के दौरान यह सामने आया कि कालास्कर दूसरा शूटर था और उसने दाभोलकर पर दो गोलियां चलाई थीं.

67 वर्षीय अंधविश्वास विरोधी कार्यकर्ता की दो मोटरसाइकिल सवार लोगों ने उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वह पुणे में 20 अगस्त 2013 को सुबह की सैर पर निकले थे. 

इनपुट भाषा से भी 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.