close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चेन्नई: चीख सुनकर चलती ट्रेन से कूदा RPF जवान, दूसरी बोगी में बैठी महिला को रेप से बचाया

आरोपी व्यक्ति की पहचान सत्यराज के रूप में हुई है, जो कि दक्षिण चेन्नई के मेट्रो शहर तमिलनाडु के वेलाचेरी का निवासी है. आगे की कार्रवाई के लिए उसे रेलवे पुलिस के हवाले कर दिया गया.

चेन्नई: चीख सुनकर चलती ट्रेन से कूदा RPF जवान, दूसरी बोगी में बैठी महिला को रेप से बचाया
प्रतीकात्मक फोटो

चेन्नई: रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के एक कॉन्स्टेबल ने बहादुरी की मिसाल पेश करते हुए एक महिला की इज्जत बचाई. आरपीएफ के जवान ने चलती ट्रेन से छलांग लगाकर दूसरी बोगी में बैठी महिला को बचाया जिसके साथ एक 26 वर्षीय युवक बलात्कार करने की कोशिश कर रहा था. घटना सोमवार रात को चिंताद्रीपेट और पार्क स्टेशन के बीच हुई. जवान का नाम के. शिवाजी बताया जा रहा है. 

पुलिस के अनुसार, 'जब ट्रेन चिंताद्रीपेट स्टेशन से खुली, तो के.शिवाजी को एक औरत के चीखने की आवाज सुनाई दी जो कि बगल वाले डिब्बे से आ रही थी. दोनों कंपार्टमेंट के बीच कोई गलियारा नहीं था इसलिए वह अगले कम्पार्टमेंट में नहीं जा सकता था. ऐसे में जैसे ही ट्रेन पार्क स्टेशन पहुंची, शिवाजी ने छलांग लगाई और अगले कम्पार्टमेंट में पहुंच गया."

वहां उन्होंने देखा कि एक महिला के साथ व्यक्ति बलात्कार करने की कोशिश कर रहा है. आरपीएफ जवान ने उस व्यक्ति को धक्का देकर पीछे कर दिया और महिला को बचाया. इसी बीच, शिवाजी की टीम के अन्य सदस्य आ गए और उन्होंने महिला को अचेत पाया. पीड़िता के होठों से खून बह रहा था और उसके कपड़े फटे हुए थे. टीम ने तत्काल एंबुलेंस को बुलाया और उसे राजीव गांधी सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों के मुताबिक, अब उसकी हालात स्थिर है. 

जीआरपी प्रमुख पोन मैनिकावेल ने अस्पताल में पीड़िता से मुलाकात की और कहा कि महिला ने बताया है कि कॉन्सटेबल शिवाजी ने उसकी जिंदगी बचाई है. मैनिकावेल ने कहा, "मैंने शिवाजी को 5 रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया है."  

आरोपी व्यक्ति की पहचान सत्यराज के रूप में हुई है, जो कि दक्षिण चेन्नई के मेट्रो शहर तमिलनाडु के वेलाचेरी का निवासी है. आगे की कार्रवाई के लिए उसे रेलवे पुलिस के हवाले कर दिया गया.