close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: सीएम गहलोत ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- इनकी नीति-रीति में दोनों में खोट

अशोक गहलोत ने कहा कांग्रेस इस देश का डीएनए है. इस देश के लोगों की आवाज है. जो लोग कांग्रेस मुक्त भारत बनाने की बातें करते हैं, एक दिन वह खुद ही मुक्त हो जाएंगे.

जयपुर: सीएम गहलोत ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- इनकी नीति-रीति में दोनों में खोट
अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस इस देश का डीएनए है.

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को बीजेपी (BJP) और पीएम नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा. सीएम ने कहा कि केंद्र की नीति और रीति में खोट है. यही वजह है कि देश में आज आर्थिक हालात गर्त में जा रहे हैं. सीएम ने कहा कि कांग्रेस (Congress) मुक्त भारत बनाने का दावा करने वाले एक दिन खुद मुक्त हो जाएंगे.

तीन दिवसीय दिल्ली यात्रा से लौटे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शनिवार को जयपुर में आयोजित आई आईआईजीजे हॉस्टल के उद्घाटन समारोह में पहुंचे थे. यहां वह बीजेपी और केंद्र सरकार पर जमकर बरसे. अशोक गहलोत ने कहा कि देश में केंद्र सरकार की कथनी और करनी में अंतर है. यही वजह है कि महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का नाम केवल जुबां पर है लेकिन दिल में और सोच में कुछ और है. 

देश में बेरोजगारी सबसे खराब दौर में है
अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों के चलते देश में बेरोजगारी की समस्या अपने सबसे खराब दौर में है. सरकार काला धन लाने अच्छे दिन के वादे पूरे नहीं कर पाई है. जनता के समक्ष केवल अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए राष्ट्रवाद का ही एकमात्र सहारा बचा हुआ है. अशोक गहलोत ने नरेंद्र मोदी पर अमेरिका में अबकी बार ट्रंप सरकार कहने पर भी निशाना साधा. गहलोत ने कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप के लिए वोट मांगने वाले नहीं जानते कि अगर वहां दूसरे दल की सरकार आई तो हिंदुस्तान के साथ उनके रिश्ते क्या रहेंगे? 

देश का डीएनए है कांग्रेस
अशोक गहलोत ने कहा कांग्रेस इस देश का डीएनए है. इस देश के लोगों की आवाज है. जो लोग कांग्रेस मुक्त भारत बनाने की बातें करते हैं, एक दिन वह खुद ही मुक्त हो जाएंगे. देश में कांग्रेस पार्टी ने ही लोकतंत्र को जिंदा रखा है और यही कारण है कि आज नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बन पाए हैं. बीजेपी विपक्ष को खत्म करना चाहती है. चाइना की तरह उनकी सोच यहां सिंगल पार्टी के जरिए सरकार चलाने की है लेकिन सिंगल पार्टी होने पर लोकतंत्र जिंदा नहीं रहेगा.

(साथ में अंकित तिवारी, जी न्यूज, जयपुर)