close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारतीय तट रक्षक के जवानों ने बचाई समुद्री लहरों के बीच जिंदगी की जंग लड़ रहे मछुआरे की जान

समुद्र में बचाया गया यह मछुआरा भी कम हिम्मत वाला नहीं था वह पिछले 12 घंटों से भी ज्यादा समय से समुद्र की लहरों के बीच जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा था.

भारतीय तट रक्षक के जवानों ने बचाई समुद्री लहरों के बीच जिंदगी की जंग लड़ रहे मछुआरे की जान
मछुआरे की तटरक्षक जहाज पर चिकित्सकीय जांच की गई

उडुपी: भारतीय तट रक्षक के सावित्रीबाई फुले जहाज ने बुधवार को जिंदगी और मौत के बीच लड़ाई लड़ रहे एक मछुआरे को डूबने से बचा लिया. आपको बता दें कि कर्नाटक तट पर तैनात सावित्रीबाई फुले जहाज की टीम को उडुपी जिले के मालपे बीच के पास से एक मछुआरे के लापता होने की खबर मिली थी. सूचना के बाद भारतीय तट रक्षक की टीम ने तलाश शुरू की और मछुआरे को बचा लिया.

बताया जा रहा है कि ओडिशा निवासी मछुआरा बुधवार सुबह से लापता था. जानकारी के मुताबिक सावित्रीबाई फुले जहाज पर तैनात भारतीय तट रक्षक के जवान जब खोजते हुए मछुआरे के नजदीक पहुंचे तो मछुआरा उन्हें समुद्र में डूबने से बचने की कोशिश करता नजर आया. जिसके बाद तट रक्षकों ने रस्सी में एक ट्यूब बांधकर मछुआरे की ओर फेंका. मछुआरे ने इस ट्यूब को पकड़ा और भारतीय तट रक्षक के जवानों ने रस्सी के सहारे मछुआरे को जहाज पर खींचा. जान बचने पर मछुआरे ने जवानों को धन्यवाद किया.

यहां आपको यह भी बता दें कि समुद्र में बचाया गया यह मछुआरा भी कम हिम्मत वाला नहीं था वह पिछले 12 घंटों से भी ज्यादा समय से समुद्र की लहरों के बीच जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा था. मछुआरे की तटरक्षक जहाज पर चिकित्सकीय जांच की गई, उसका स्वास्थ्य स्थिर है और वह सुरक्षित है. मछुआरे को तटरक्षक जहाज से न्यू मैंगलोर में बंदरगाह पर लाया जा रहा है. इसके साथ ही मछुआरे को आवश्यक प्राथमिक चिकित्सा प्रदान की गई है.