close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस ने विधानसभा उप-चुनाव के प्रत्याशियों के नाम किए तय, औपचारिक ऐलान बाकी

Candidates of Congress for By-polls in Rajasthan: कांग्रेस ने विधानसभा की दो सीटों पर हो रहे उप-चुनाव के लिए उम्मीदवार फाइनल कर लिया है.

कांग्रेस ने विधानसभा उप-चुनाव के प्रत्याशियों के नाम किए तय, औपचारिक ऐलान बाकी
कांग्रेस नेता रीटा चौधरी और हरेंद्र मिर्धा. (फोटो साभार: facebook)

जयपुर: राजस्थान में होने वाले दो चुनाव को लेकर कांग्रेस के प्रत्याशियों(Congress Candidates) को लेकर तस्वीर साफ हो गई है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट(Sachin Pilot) ने बताया कि खींवसर से हरेंद्र मिर्धा(Harendra Mirdha) और मंडावा से रीटा चौधरी(Reeta Chaudhary) कांग्रेस की उम्मीदवार होंगी. पायलट ने आरसीए(Rajasthan Cricket Association)  में चल रहे घमासान को लेकर कहा खेलों में राजनीति नहीं हो तो ज्यादा अच्छा है.

राजस्थान में होने वाले दो चुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों के नाम तय कर लिए हैं. केवल औपचारिक ऐलान बाकी रह गया है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने बताया कि मंडावा से रीटा चौधरी और खींवसर से कांग्रेस के हरेंद्र मिर्धा होंगे दोनों नेताओं ने अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है.

जल्द होगी नाम की घोषणा
सचिन पायलट ने कहा जल्द ही दोनों के नामों की घोषणा कर दी जाएगी. पायलट ने कहा कि दोनों सीटों पर कांग्रेस विधानसभा चुनाव हार चुकी है लिहाजा इस बार पूरी ताकत के साथ  कांग्रेस चुनाव लड़ेगी और दोनों सीटें कांग्रेस के खाते में जुड़ेगी. 

बीएसपी विधायकों पर रखी बेबाक राय
बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर एक बार फिर से पायलट ने निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस अपना सदस्यता अभियान चला रही है. हम लोगों को आमंत्रित कर रहे हैं पार्टी ज्वाइन करने के लिए ऐसे में कोई भी आगे कांग्रेस की सदस्यता ले सकता है.

महापौर चुनाव पर कहा...
सचिन पायलट ने निकाय प्रमुख पर महापौर के सीधे चुनाव लड़ने के सवाल पर पायलट ने कहा इस बारे में शांति धारीवाल और उनकी कमेटी काम कर रही है. सुझावों के आधार पर जो भी निर्णय लिया जाएगा वही तय होगा अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है.

खेल में नहीं होनी चाहिए राजनीति
आरसीए में वैभव गहलोत और रामेश्वर डूडी के बीच चल रहे घमासान को लेकर पायलट ने कहा खेल संघों में चुनाव लड़ने का अधिकार सबको है. प्रत्येक व्यक्ति अपनी क्षमता के हिसाब से चुनाव लड़ सकता है दोनों ही नेताओं में क्रिकेट का भला करने की क्षमता है बस खेलों को लेकर राजनीति नहीं होनी चाहिए.

कांग्रेस ने मजबूत उम्मीदवारों पर खेला दांव
कुल मिलाकर साफ है कि कांग्रेस ने दोनों ही सीटों पर अब से अपने सबसे मजबूत उम्मीदवारों पर दांव खेला है. रीटा चौधरी ने विधानसभा का चुनाव लड़ा था और केवल 2346 वोटों के अंतर से चुनाव हारी थी. वहां उनकी सक्रियता और लोकप्रियता के हिसाब से पार्टी ने एक बार फिर से उन्हें अपना उम्मीदवार बनाया है. 

मिर्धा माने जाते हैं कद्दावार नेता
वहीं, खींवसर में पूर्व मंत्री हरेंद्र मिर्धा पर पार्टी दांव खेला है. हरेंद्र मिर्धा पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते हैं उनके पास अनुभव है लेकिन आज के युवा मतदाताओं के साथ क्या वह तालमेल बिठा पाएंगे यह चुनाव परिणाम ही तय करेंगे.