LIVE: महाराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकराया तूफान Nisarga, 110 KMPH की रफ्तार से चल रही हैं हवाएं

चक्रवात निसर्ग को देखते महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की 20 टीमें तैनात की गई हैं. एनडीआरएफ की टीमों ने आज सुबह कोलिवाडा और अलीबाग के इलाके से लोगों को निकाला है.

LIVE: महाराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकराया तूफान Nisarga, 110 KMPH की रफ्तार से चल रही हैं हवाएं

मुंबई:  तूफान निसर्ग ने दस्तक दे दी है. अलीबाग और रत्नागिरी में तेज हवाओं के साथ ऊंची लहरें उठनी शुरू हो गई हैं.  निसर्ग चक्रवात के मद्देनजर मुंबई के बांद्रा-वर्ली सी लिंक पर वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाई गई है. ​हालांकि मुंबई में आने वाला चक्रवात 50 किलोमीटर दक्षिण में चला चला गया. इससे मुंबई में इसका खतरा कम हुआ है. 

गौरतलब है कि बांद्रा-वर्ली सी लिंक समुद्र पर बना है और चक्रवात के मद्देनजर ऊंची लहरों से खतरा हो सकता है. इसलिए ट्रैफिक पुलिस ने गाड़ियों की आवाजाही पर रोक लगा दी है. चक्रवात निसर्ग के चलते मुंबई के रानीबाग चिड़ियाघर में जानवरों को सुरक्षित जगहों पर शिफ्ट किया गया. 

खासकर बाघ, तेंदुआ और अन्य जानवरों को खुली जगह से बंद जगह में रखा गया ताकि पेड़ गिरने से उनको नुकसान ना हो. महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में कुल 13541 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया. ये वो लोग हैं जो तटवर्ती इलाकों में रहते हैं और चक्रवात के चलते इनको खतरा हो सकता था

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले का तटवर्ती इलाका निसर्ग चक्रवात से सबसे ज्यादा प्रभावित है. महाराष्ट्र के अलग-अलग इलाकों से कुल 40000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया है.

मुंबई के वर्सोवा बीच पर हाई टाइड और तेज हवाओं को देखते हुए एनडीआरएफ को तैनात किया गया ​है. यहां आसपास रहने वाले लोगों को सुरक्षित बीएमसी और एनडीआरएफ ने सुरक्षित जगह पहुंचाया है.

तूफान आज दोपहर तक मुंबई में समुद्र तट से टकराएगा. मौसम विभाग ने जानकारी ​दी है कि तूफान अभी मुंबई से करीब 200 किलोमीटर दूर है. इस बीच हाई टाइड की चेतावनी जारी की गई है. 6 फीट ऊंची लहरें उठ सकती हैं.  हवा की रफ्तार अभी 100 से 110 किलोमीटर ​है और ये 120 किलोमीटर प्रतिघंटे तक हो सकती है. 

विमानों की उड़ान में कटौती
चक्रवात निसर्ग के चलते करीब 1 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया है. इनमें कोरोना वायरस मरीज भी शामिल हैं. वहीं विमानों की उड़ान में भी कटौती की गई है. 11 विमानों टेक ऑफ होगा और 8 की लैंडिंग होगी. रोजाना ​मुंबई एयरपोर्ट से करीब 50 विमान उड़ान भरते हैं.  अरब सागर के ऊपर बन रहा चक्रवाती तूफान निसर्ग (Nisarga) महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय जिलों में आज दोपहर तक दस्तक दे सकता है.

मुंबई-ठाणे में बारिश
चक्रवात निसर्ग का असर दिखना शुरू हो गया है. मुंबई-ठाणे में बारिश शुरू हो गई है. मौसम विभाग के मुताबिक, तूफान अलीबाग सबसे पहले अलीबाग में टकराएगा.चक्रवात निसर्ग को देखते महाराष्ट्र में एनडीआरएफ की 20 टीमें तैनात की गई हैं. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लोगों से घरों में ही रहने की अपील की है. तूफान को लेकर हाई अलर्ट जारी किया गया है.

120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं 
एनडीआरएफ की टीमों ने आज सुबह कोलिवाडा और अलीबाग के इलाके से लोगों को निकाला है. एनडीआरएफ के डायरेक्टर जनरल एसएन प्रधान ने बताया ​कि चक्रवात निसर्ग के खतरे को देखते हुए लोगों को यहां से निकाला गया है. मुंबई में 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. आज दोपहर चक्रवात निसर्ग मुंबई पहुंचेगा. तूफान निसर्ग सबसे पहले अलीबाग में टकराएगा ये दोपहर 1 बजे अलीबाग पहुंचेगा.

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र, गुजरात में NDRF तैनात, दोपहर ढाई बजे मुंबई पहुंचेगा Nisarga तूफान

मुंबई में बीच पर धारा 144 लागू
एनडीआरएफ की 8 टीमें मुंबई, 5 रायगढ़, पालघर में 2, ठाणे में 2, रत्नागिरी में 2 और सिंधु दुर्ग में तैनात की गई हैं. बीएमसी ने हेल्पलाइन नंबर 1916 जारी किया है. तूफान के चलते मुंंबई के सभी बीच पर धारा 144 लागू किया गया है. मुंबई में लोगों को बीच पर न जाने की सलाह दी गई है.

पीएम ने दिलाया हर संभव मदद का भरोसा
महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवात की स्थिति को देखते हुए पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे और गुजरात के सीएम विजय रूपाणी से बात की. प्रधानमंत्री ने दोनों मुख्यमंत्रियों को केंद्र सरकार की तरफ से हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है.

ट्रेन सेवा प्रभावित
चक्रवाती तूफान निसर्ग की वजह से ​ट्रेन सेवा भी प्रभावित हुई.  स्पेशल ट्रेनों को भी री-शेड्यूल किया गया है. सेंट्रल ने इन ट्रेनों को री-शेड्यूल ​किया है-

-02342 एलटीटी-गोरखपुर स्पेशल आज 3 जून को 11.10 में न खुलकर रात 8 बजे खुलेगी.

-06345 एलटीटी-तिरुवनंतपुरम स्पेशल 11.40 में न खुलकर शाम 6 बजे खुलेगी.

-01061 एलटीटी दरभंगा स्पेशल रात 12.15 में खुलकर रात 8.30 रवाना होगी.

-01071 एलटीटी वाराणसी स्पेशल रात 9 बजे खुलेगी पहले ये ट्रेन 12.40 में खुलनी थी.

-01019 सीएसएमटी भुवनेश्वर स्पेशल रात 8 बजे रवाना होगी, पहले ये ट्रेन शाम 3 बजे खुलनी थी.

इसके अलावा यूपी स्पेशल ट्रेनों का समय भी बदला गया है और इन्हें डाइवर्ट किया गया है.

15 NDRF और 6 SDRF की टीमें तैनात
निसर्ग तूफान के चलते 50 हजार से अधिक लोगों को स्थांतरित किया गया. 126 आश्रय स्थानों पर कोरोना की गाइडलाइंस के अनुसार लोगों को रखा गया है.  250 से अधिक गर्भवती महिलाओं को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया. राज्य में 15 NDRF और 6 SDRF की टीमें तैनात की गई हैं. हालात से निपटने के लिए 170 मेडिकल टीम समेत 250 से अधिक एम्बुलेंस स्टैंड बाई पर हैं. दक्षिण गुजरात के वापी में केमिकल समेत ज्यादातर इंडस्ट्रीज को बंद रखने की सूचना है.

गुजरात में तूफान का असर
राज्य में तूफान का अब तक कोई खास असर देखने को नहीं मिला है. राज्य के 31 तालुकाओं में पिछले 24 घंटे में सामान्य बारिश हुई है.सबसे अधिक 2 इंच बारिश जूनागढ़ के केशोद में दर्ज की गई है. राज्य की 10 से अधिक तालुकाओं में आधे इंच से अधिक बारिश हुई है. 

दक्षिण गुजरात में 60 km की गति से बारिश होगी. उत्तर गुजरात में 2 नंबर का और दक्षिण गुजरात के पोर्ट पर 3 नंबर का सिग्नल दिया गया है. सौराष्ट्र और अहमदाबाद में भी बारिश होगी.