close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर शहर को तंबाकू मुक्त बनाने के लिए जिलाधिकारी सजग, दिए निर्देश

जयपुर में स्कूलों के 100 मीटर की परिधि में तंबाकू उत्पादों की बिक्री करने वाले आउटलेट पुलिस की सहायता से बंद होंगे.

जयपुर शहर को तंबाकू मुक्त बनाने के लिए जिलाधिकारी सजग, दिए निर्देश
बैठक के दौरान मौजूद डीएम और अन्य अधिकारी.

जयपुर: स्कूलों के 100 मीटर की परिधि में तंबाकू उत्पादों की बिक्री करने वाले आउटलेट पुलिस की सहायता से बंद होंगे. कलक्टर जगरूप सिंह यादव ने जिला शिक्षा अधिकारियों की जानकारी एकत्र कर हर हाल में 30 नवंबर तक ऐसे विक्रय केंद्रों को बंद से करवाने के निर्देश दिए.

इसके लिए सूचना तंत्र विकसित करने और पुलिस को किसी भी स्रोत से शिकायत मिलने पर कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए. कलक्ट्रेट में जयपुर शहर को सिगरेट और तम्बाकू मुक्त बनाने के लिए सिगरेट अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम (कोटपा 2003) के संबंध में बैठक ली. 

यादव ने कहा की विद्यालयों के 100 मीटर की परिधि में तंबाकू उत्पादों के विक्रय केंद्र की पहचान करें और संबंधित थाने में सूचित करें. स्कूलों से ऐसी सूची प्राप्त होने पर पुलिस द्वारा कार्रवाई की जाए. परचून की दुकान हो चाहे स्थायी या अस्थायी खोमचा सभी पर कार्यवाही की जाए. अगर डेयरी बूथों पर ऐसे उत्पाद बेचे जाते मिलें तो जिला प्रशासन के मार्फत डेयरी विभाग को उनके लाइसेंस निलम्बन या पाबन्द करने के लिए लिखवाएं. 

यादव ने कहा कि एक ऐप का निर्माण किया जाए. जिस पर आम आदमी भी सार्वजनिक या प्रतिबंधित स्थलों पर स्कूलों के पास या नाबालिग को तंबाकू उत्पाद बेचे जाने की सूचना दे सके. 

बता दें कि आज कल जिस तरीके से युवा और किशोर नशे की तल में आ जाते हैं ऐसे में मां बाप के सामने बड़ा संकट पैदा हो जाता है. बच्चे छोटी उम्र में ही नशे की जद में आ जाते है जिससे उनका पूरा जीवन बरबाद हो जाता है. इसी को लेकर जिला कलेक्टर जगरूप यादव ने बड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. अब देखना है कि आखिर जिलाधिकारी की सख्ती के बाद आखिर कितनी जल्दी आधिकारी इस शहर को तंबाकू मुक्त कर पाते हैं.

Sanjay Yadav, News Desk