close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डीडवाना: मई में एक साथ 6 घरों में चोरी करने वाली गैंग को पुलिस ने किया गिरफ्तार

डीडवाना शहर में 21 मई 2019 की रात को शहर की परमानंद कॉलोनी में एक ही रात में एक साथ 6 घरों में चोरी की वारदात हुई थी. 

डीडवाना: मई में एक साथ 6 घरों में चोरी करने वाली गैंग को पुलिस ने किया गिरफ्तार
फाइल फोटो

हनुमान तंवर, नागौर: जिले की डीडवाना पुलिस ने मंगलवार को एक बड़ी कार्रवाही करते हुए अंतर्राज्यीय नकाबजन गिरोह बंटी गैंग का खुलासा करते हुए गैंग के सरगना सहित चार लोगों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है. गिरफ्तार आरोपियों ने डीडवाना में एक साथ एक ही रात में 6 घरों में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था. पुलिस की टीम ने आरोपियों को मुरैना से गिरफ्तार किया. जिसके बाद उन्हें डीडवाना लाया गया.

डीडवाना शहर में 21 मई 2019 की रात को शहर की परमानंद कॉलोनी में एक ही रात में एक साथ 6 घरों में चोरी की वारदात हुई थी. सुबह जब खबर लगी तो मकान मालिकों के साथ साथ कॉलोनी के लोगों में डर के साथ साथ पुलिस की गश्त पर गुस्सा आया और लोगों ने एक साथ थाने पंहुचकर चोरी की वारदात का मामला दर्ज करवाया. जिसके बाद पुलिस ने भी एक साथ इतनी बड़ी संख्या में हुई चोरी को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच शुरू कर दी.

मामले की गंभीरता को देखते हुए नागौर पुलिस अधीक्षक और डीडवाना के एएसपी ने डीडवाना थानाधिकारी के निर्देशन में एक टीम बनाकर जांच में जुट गई और तकनीकी आधार पर काम करते हुए 21 मई की रात में डीडवाना के कॉल डिटेल को आधार बनाकर बीटीएस के माध्यम से नम्बर खंगाले और एमपी के नम्बर को पकड़ कर जांच शुरू की. जिसके बाद कार्रवाई करते हुए डीडवाना पुलिस की टीम मध्यप्रदेश के मुरैना पंहुची और बंटी गैंग के सरगना बंटी कुशवाह सहित गैंग के बाकी तीन सदस्यों को भी गिरफ्तार करके डीडवाना लाया गया. पूछताछ में गैंग के सरगना और सदस्यों ने धौलपुर, ग्वालियर के अलावा भी महाराष्ट्र गुजरात में गैंग ने कई बड़ी वारदातों को अंजाम देते हुए बड़ी मात्रा में सोना चांदी चोरी की वारदात को अंजाम दिया और वांछित है.

पुलिस पूछताछ में सामने आया कि गैंग के सदस्य मुरैना से जयपुर आते और फिर एक साथ किसी क्षेत्र में निकलकर दिन में सूने मकानों की पहचान करते और रेकी करने के बाद रात को बंद और सूने मकानों को निशाना बनाकर सोने चांदी और नकदी चोरी कर फरार हो जाते थे. डीडवाना में भी इसी तरह रेकी कर सूने मकानों में एक ही रात में 6 मकानों को निशाना बनाकर वारदात को अंजाम दिया गया था.

अपराधी हो या चोर कितना भी शातिर क्यों न हो भला मगर पुलिस और कानून के हाथ भी लंबे होते हैं. अपराध करने वाला एक न एक दिन पुलिस गिरफ्त में आ ही जाता है और यही बंटी गैंग के साथ हुआ. पांच महीने तक भागते रहने के बाद आखिर पुलिस पकड़ में आ ही गए.