RCA में विवाद की वजह से प्रतिभाओं का हो रहा नुकसान: दीपक चाहर

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर दीपक चाहर विजय हजारे ट्रॉफी में हिस्सा लेने के लिए जयपुर पहुंचे हैं. लेकिन उससे पहले दीपक चाहर ने राजस्थान क्रिकेट में चल रहे घमासान पर अपनी बेबाक राय रखी.

RCA में विवाद की वजह से प्रतिभाओं का हो रहा नुकसान: दीपक चाहर
अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर दीपक चाहर. (फाइल फोटो)

जयपुर: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर दीपक चाहर(Deepak Chahar) विजय हजारे ट्रॉफी में हिस्सा लेने के लिए जयपुर(Jaipur) पहुंचे हैं और शुक्रवार को होने वाले मैच को लेकर दीपक चाहर टीम राजस्थान(Rajasthan) की ओर से मैदान पर उतर सकते हैं. लेकिन उससे पहले दीपक चाहर ने राजस्थान क्रिकेट में चल रहे घमासान पर जमकर निशाना साधा.

उन्होंने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन(Rajasthan Cricket Association) के पदाधिकारियों से अपील की है कि जल्द से जल्द इस विवाद को सुलझाएं जिससे राजस्थान का क्रिकेट आगे बढ़ सके और जो क्रिकेट(Cricket) पिछले 6 सालों से रुका हुआ है उसकी गति मिल सके.

जयपुर में हैं तेज गेंदबाज दीपक चाहर
इंडिया टीम में सबसे मजबूत तेज गेंदबाजों में से एक गिने जाने वाले दीपक चाहर विजय हजारे ट्रॉफी में हिस्सा लेने के लिए जयपुर पहुंचे हैं. हालांकि मंगलवार को हुए पहले मैच में दीपक चाहर टीम का हिस्सा नहीं रहे और इस मैच में टीम राजस्थान को हार का मुंह देखना पड़ा.

अगले मैचों में दिखाएंगे दमखम
लेकिन अगले मैचों को लेकर दीपक चाहर का कहना है कि अभी प्रतियोगिता के 7 मैच बचे हुए हैं और अगले मैच में पूरी ताकत के साथ उतरेंगे,टीम के सभी खिलाड़ी फॉर्म में हैं और इस साल विजय हजारे ट्रॉफी में टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी.

दक्षिण अफ्रीका के मैचों पर खुलकर की बात
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू होने वाले टेस्ट को लेकर भी दीपक चाहर ने खुलकर बात की. दीपक चाहर ने कहा की  टेस्ट से पहले बुमराह का चोटिल होना थोड़ा चिंता का विषय है. लेकिन उनकी चोट ज्यादा गंभीर नहीं है और वो जल्द ही वापसी करेंगे. क्यूंकि इस समय वो दुनिया के नम्बर-1 गेंदबाज हैं. साथ ही जब भी मुझे मौका मिला है मैंने अच्छा प्रदर्शन किया है. टी-20 में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा हूं और वनडे में जगह बनाने के लिए इस प्रदर्शन को जारी रखना ही सबसे बड़ी चुनौती है. बाकि टीम में चयन का काम सलेक्टर्स का है.

राजस्थान क्रिकेट में घमासान पर रखी बेबाक राय़
राजस्थान क्रिकेट में पिछले 6 सालों से चले आ रहे घमासान को लेकर भी दीपक चाहर ने खुलकर बात की. दीपक चाहर ने कहा कि "एक समय राजस्थान क्रिकेट एकेडमी और घरेलू क्रिकेट सबसे बेस्ट हुआ करती थी लेकिन आज इनके हालात देखो. लेकिन आज जूनियर क्रिकेटर भी आपको बता देंगे की ईमानदारी से सलेक्शन नहीं होता है. 1 से 2 हजार बच्चों के बीच में अगर 11 खिलाड़ी चुने जाते हैं तो आप खुद ही देख सकते हैं कि कलेक्शन कितना फेयर होता होगा.

विवाद खत्म होगा तो मिलेगा नए खिलाड़ियों को मौका
पिछले 6 सालों में राजस्थान क्रिकेट इस विवाद के चलते बहुत पीछे चली गई है. जिसके चलते काबिलियत वाले क्रिकेटरों को मौका नहीं मिल रहा है. हालांकि इन सब विवाद के बाद भी अंडर-19 के साथ ही सीनियर क्रिकेटर भी अपनी जगह भारतीय टीम में बना रहे हैं. लेकिन ये विवाद खत्म होता है तो आने वाले टाइम में क्रिकेटरों को और ज्यादा मौका मिलेगा.

Sanjay Yadav, News Desk