close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस बोले- सेना की ले रहे मदद, बाढ़ से अब तक 27 लोगों की मौत

 कोल्हापुर जिले से 97000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया. पूरे पुणे डिवीजन से 205000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया.

महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस बोले- सेना की ले रहे मदद, बाढ़ से अब तक 27 लोगों की मौत
फाइल फोटो

नई दिल्ली: बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने गुरुवार को प्रेस कान्फ्रेंस में बताया कि, पिछले कई दिनों से मूसलाधार बारिश की वजह से बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं. केंद्र सरकार से संपर्क कर रेस्क्यू टीम की मदद बुलाई गई है. सभी राहत टीमें पहुंच गई है. सांगली में स्थिति ज्यादा गंभीर है. सांगली में 11 टीमें काम कर रही है. सांगली में और राहत टीमें मंगाई जा रही है. कोल्हापुर जिले में 223 गांव बाढ़ प्रभावित है. कोल्हापुर में रेस्क्यू के लिए 60 नाव चलाई जा रही है. कोल्हापुर में बाढ़ से 3800 घर ढह गए.

बाढ़ से पानी और बिजली सप्लाई पर असर. 390 पानी सप्लाई योजना और दो लाख ग्राहकों तक बिजली सप्लाई बंद है. बाढ़ से 67 हजार हेक्टेयर फसल को नुकसान हुआ है. बाढ़ के चलते पेट्रोल-डीजल और दूध की सप्लाई पर भी असर पड़ा है. कर्नाटक के मुख्यमंत्री को अलमट्टी बांध से पांच लाख क्यूसेक पानी छोड़ने की गुजारिश की है. बांध से पानी छोड़े जाने के बाद सांगली में हालात सुधरने की उम्मीद है. बाढ़ से अब तक 27 लोगों की मौत हो गई है. सांगली में 11, कोल्हापुर में दो, पुणे में छह, सोलापुर में एक, सतारा में सात लोगों की मौत हो चुकी है. 

पुणे डिवीजन के डिवीजनल कमिश्नर दीपक म्हैसकर ने बाढ़ को लेकर कहा कि, सतारा जिले में दो और कोल्हापुर जिले में सात तहसीलों में अतिवृष्टि हुई. सांगली जिले से 80390 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है. कोल्हापुर जिले से 97000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया. पूरे पुणे डिवीजन से 205000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया.

कोल्हापुर में बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए 48 रेस्क्यू टीम, 63 नाव और 481 जवानों की मदद ली जा रही है. फिलहाल कोल्हापुर में बाढ़ का जलस्तर घट रहा है. सतारा और सोलापुर से 20 मोटर बोट सांगली भेजी गई है. मुंबई से दो हेलिकाप्टर भेजे गए हैं. आर्मी का भी एक हेलिकाप्टर भेजा गया है. बाढ़ प्रभावित को गोकुल दूध की मुफ्त सप्लाई हो रही है. 110061 ट्रांसफार्मर खराब हो गए हैं जिससे तीन लाख लोगों को बिजली आपूर्ति नहीं हो पा रही है. मुंबई-बैंगलुरू हाईवे बंद पड़ा है. शायद कल तक भी बंद रहेगा.  बाढ़ के चलते 204 रास्ते और पुल यातायात के लिए बंद कर दिए गए हैं.