close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जयपुर: बिजली कंपनियों के लिए मुसीबत बना DISCOM का घाटा, 5 हजार करोड़ की वसूली पेंडिंग

बिजली कंपनियों के अधिकारियों की सुस्ती की वजह से बिजली चोरी और बकाया राशि की वसूली में भारी गिरावट देखी गई है. 

जयपुर: बिजली कंपनियों के लिए मुसीबत बना DISCOM का घाटा, 5 हजार करोड़ की वसूली पेंडिंग
डिस्कॉम्स का बढ़ता घाटा बिजली कंपनियों के लिए नासूर बन रहा है.

जयपुर: डिस्कॉम्स (DISCOM) का बढ़ता घाटा बिजली कंपनियों के लिए मुसीबत बनता जा रहा है. हालात ये हैं कि बढ़ते घाटे के बाद नए कार्यादेशों के लिए धन का प्रबंधन चुनौती बन रहा है. बिजली कंपनियों के अधिकारियों की सुस्ती और बिजली चोरी की वजह से डिस्कॉम को हजारों करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है. 

प्रबंधन की नाकामी की वजह से जब बिजली कंपनी पर राजस्व का भार पड़ा, तब जाकर अधिकारियों की नींद खुली है. डिस्कॉम्स का बढ़ता घाटा बिजली कंपनियों के लिए नासूर बन रहा है. बिजली कंपनियों के अधिकारियों की सुस्ती की वजह से बिजली चोरी और बकाया राशि की वसूली में भारी गिरावट देखी गई है. अकेले जयपुर डिस्कॉम में ही चुनावी सीजन के बाद से 38 हजार मामले पकड़ में आए. 

डिस्कॉम्स की पांच हजार करोड़ रुपये की वसूली पेंडिंग हैं. जब डिस्कॉम का घाटा बिजली कंपनियों के लिए नासूर बन गया तो अधिकारियों की नींद खुली और जांच अभियान चलाया गया. पिछले एक महीने में प्रदेशभर में 35 हजार मामलों में एक्शन लिया गया है. अकेले जयपुर में बिजली चोरी के 28 हजार 657 मामले पकड़े गए हैं. मामले में 23 करोड़ 18 लाख रुपए के राजस्व की वसूली की जा चुकी है,

तेज हुआ चेकिंग अभियान
हाल ही में ऊर्जा मंत्री ने बैठक के बाद बकाया राशि वसूलने और बिजली चोरी पर प्रभावी अंकुश लगाने के निर्देश दिए थे. इस अभियान के तहत होटल, ढाबों, बहुमंजिला इमारतें, शैक्षणिक संस्थान, कोल्ड स्टोरेज जैसी जगहों में सतर्कता से जांच पर विशेष जोर दिया गया है. इस अभियान के तहत खराब मीटरों को तत्काल बदलने, उपभोक्ता के घर सही रीडिंग लेने और 10 लाख से अधिक बकाया राशि वाले उपभोक्ताओं के नाम सार्वजनिक करने के निर्देश दिए थे, जिसके बाद खराब मीटरों की लगातार जांच की जा रही है. इन चेक किए हुए मीटरों में से 10 फीसदी मीटरों की जांच विजिलेंस टीम फिर से करेगी. 

लगातार घाटे के बाद बिजली चोरी पर जारी अभियान फिलहाल असर दिखा रहा है लेकिन निकाय और पंचायतीराज चुनावों के चलते कई विधायक इस अभियान के विरोध में भी उतर आए हैं.

Edited by : Jasmine Sharma, News Desk