close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डीयू के प्रोफेसर को मिली प्रतिष्ठित मंगोलियन प्रेसिडेंशियल स्कॉलरशिप

जाकिर हुसैन कॉलेज में प्रोफेसर रामकिशोर ने बताया कि दुनिया में केवल दो ही व्यक्तियों को इस बार इस स्कॉलरशिप के लिए चुना गया है. जिनमें से एक वह खुद हैं.

डीयू के प्रोफेसर को मिली प्रतिष्ठित मंगोलियन प्रेसिडेंशियल स्कॉलरशिप

नई दिल्ली: दिल्ली यूनिवर्सिटी के जाकिर हुसैन कॉलेज के प्रोफेसर रामकिशोर महेलिया को प्रतिष्ठित मंगोलियन प्रसिडेंशियल स्कॉलरशिप के लिए चुना गया है. यह स्कॉलरशिप पाने वाले वह भारत के पहले शख्स हैं. 

रामकिशोर ने बताया कि दुनिया में केवल दो ही व्यक्तियों को इस बार इस स्कॉलरशिप के लिए चुना गया है. जिनमें से एक वह खुद हैं. उन्होंने बताया कि यह स्कॉलरशिप के पाने वाले वह पहले भारतीय हैं. 

इस स्कॉलरशिप के बारे में उन्होंने बताया कि मंगोलियन भाषा में कई दुर्लभ संस्कृत पांडुलिपियां उपलब्ध हैं जिनका मुझे अध्ययन करना हैं.  उन्होंने बताया कि वह 6 महीने तक मंगोलिया ने रहकर इन पांडुलिपियों का अध्ययन करेंगे और इनका संस्कृत में अनुवाद कर उन्हें भारत लेकर आएंगे. उन्होंन कहा कि यह पांडुलिपियां भारत और मंगोल संस्कृति के कई अनछुए पहलुओं को उजागर करेंगीं. 

जाकिर हुसैन से संस्कृत के प्रोफेसर रामकिशोर पिछले दो सालों से मंगोलियन भाषा सीख रहे हैं. वह जेएनयू में प्रो. उल्जित के मार्गदर्शन में मंगलोयिन का अध्ययन कर रहे हैं.  उन्होंने जेएनयू के इंडिक स्टडिज से संस्कृत में एमए. एमफिल और पीएचडी की है.