close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रदूषण के खिलाफ राजस्थान सरकार की पहल, सड़कों पर जल्द दिखेंगी इलेक्ट्रिक बसें

राजस्थान(Rajasthan) देश का ऐसा पहला राज्य बनने जा रहे है, जहां सबसे पहले इलेक्ट्रिक बसों(Electric Buses) का संचालन होगा. 

प्रदूषण के खिलाफ राजस्थान सरकार की पहल, सड़कों पर जल्द दिखेंगी इलेक्ट्रिक बसें
योजना के लागू होने सिटी ट्रांसपोर्ट की सूरत बदल जाएगी. (प्रतीकात्मक फोटो)

जयपुर: राजस्थान (Rajasthan) देश का ऐसा पहला राज्य बनने जा रहे है, जहां सबसे पहले इलेक्ट्रिक बसों(Electric Buses) का संचालन होगा. यदि सबकुछ ठीक रहा तो दिसंबर महीने तक जयपुर शहर की सडकों पर खटारा और धुआं देती लो-फ्लो बसों में सफर करने से यात्रियों को छुटकारा मिलेगा. 

जयपुर शहर में जेसीटीएसएल की 100 इलेक्ट्रिक बसें और रोडवेज की जयपुर-दिल्ली मार्ग पर 50 इलेक्ट्रिक बसों में यात्रा करते हुए नजर आएंगे. इस योजना की शुरुआत कर राजस्थान इलेक्ट्रिक बसें चलाने वाला देश का पहला राज्य होगा.

योजना को धरातल पर लाने के लिए JCTSL और रोडवेज ने खोले टेंडर
जानकारी के अनुसार, इलेक्ट्रिक बसें चलाने की योजना को अब धरातल पर लाने की कवायद तेज कर दी गई है. जिसके लिए जयपुर में इलेक्ट्रिक बसें चलाने की योजना के तहत जेसीटीएसएल 100 और रोडवेज ने 50 इलेक्ट्रिक बसों के टेंडर खोल दिए हैं. जिसके लिए 21 अक्टूबर तक कंपनियों से आवेदन मांगे गए हैं और 15 नवंबर से पहले रोडवेज और जेसीटीएसएल की ओर से इलेक्ट्रिक बसों के लिए वर्क ऑर्डर भी निकाल दिए जाएंगे. जिसके बाद दिसंबर तक बसें आने की उम्मीद भी है. दोनों ही प्रबंधनों को भारत सरकार 50 फीसदी सब्सिडी देगी. जिसका लाभ लेने के लिए 15 नवंबर से पहले ही वर्क ऑर्डर देने होंगे.

बसों के चार्जिंग स्टेशन भी तैयार करेगी निर्माता कंपनी, दिल्ली रूट पर चलेंगी बसें
टेंडर के अनुसार बसों के चार्जिंग स्टेशन भी निर्माता कंपनी तैयार करेंगी. रोडवेज इलेक्ट्रिक बसों को दिल्ली रूट पर चलाएगा. एक बार चार्जिंग होने पर बस करीब 300 कि.मी चलती है. लिहाज़ा जयपुर से दिल्ली के 280 कि.मी के सफर के दौरान जयपुर-दिल्ली रूट पर स्टॉपेज की जगह चार्जिंग स्टेशन बनाया जाने पर विचार हो रहा है.

सिटी ट्रांसपोर्ट की बदलेगी सूरत, पर्यावरण भी रहेगा सुरक्षित
योजना के लागू होने से आने वाले दिनों में सिटी ट्रांसपोर्ट की सूरत बदल जाएगी. शहर के लोग इलेक्ट्रिक बसों में सफर करेंगे. उम्मीद है कि इलेक्ट्रिक यातायात साधन बढ़ने से लोगों की मुश्किले कम होगी. इसके साथ ही पर्यावरण भी सुरक्षित रहेगा.

Laxmi Upadhyay, News Desk