close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अपनी भूख मिटाने खेत पहुंचा था हाथी, बिजली का करंट लगने से हुई मौत

किसान खेत में बिजली के करंट छोड़ देते हैं लेकिन धान के खेत में जब हाथी अपनी भूख मिटाने पंहुचा तो बिजली का झटका लगने से उसकी मौत हो गई.  

अपनी भूख मिटाने खेत पहुंचा था हाथी, बिजली का करंट लगने से हुई मौत

कोलकाता: सिलीगुड़ी (Siliguri) के गाजोलडोबा मिलानपल्ली के बैकुंठपुर फारेस्ट के पास एक खेत में हाथी की मौत हो गई. इस जगह पर कई सालों से किसान धान की खेती करते आ रहे हैं. बताया जा रहा है की यहां के किसान अपनी फसल को हाथियों के उत्पात से बचाने के लिए हर रोज़ अपने खेत में बिजली के करंट छोड़ देते हैं और आज उसी धान के खेत में जब यह हाथी अपनी भूख मिटाने पंहुचा तो बिजली का झटका लगने से उसकी मौत हो गई.

LIVE TV...

गाजोलडोबा मिलानपल्ली की एक तरफ जहां बैकंठपुर के जंगल हैं, वहीं दूसरी तरफ किसानों के धान के खेत भी मौजूद हैं, जहां साल के इस वक्त तक फसल पक जाती है. हाथी बैकंठपुर जंगलों से इनके खेतों में घुसकर फसलों को नष्ट कर देते हैं. इसी के चलते अपनी फसल को हाथियों से बचाने के लिए यहां बिजली के तार लगाए जाते हैं.

इस मामले में यहां के किसान कैमरे के सामने कुछ भी कहने से बचते दिखे. वहीं वन विभाग के कर्मचारियों से बात करने के बाद पता चला कि बिजली के चलते ही इस हाथी की मौत हुई है.