close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ओडिशा: अश्विनी वैष्णव राज्यसभा के लिए नामित होने के बाद BJP में हुए शामिल

कांग्रेस सत्तारूढ़ बीजेडी पर यह आरोप लगाते हुए जमकर बरसी कि उसकी बीजेपी के साथ साठगांठ है जो राज्यसभा उपचुनाव में बीजेपी के प्रत्याशी को समर्थन देने की घोषणा से उजागर हो गई है. 

ओडिशा: अश्विनी वैष्णव राज्यसभा के लिए नामित होने के बाद BJP में हुए शामिल
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निजी सचिव रह चुके वैष्णव बीजेपी की ओडिशा इकाई के अध्यक्ष एवं सांसद बसंत पांडा और अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए. (फोटो साभार- @BJP4Odisha)

भुवनेश्वर: ओडिशा में राज्यसभा के लिए होने वाले उपचुनाव में बीजेपी की ओर से प्रत्याशी बनाए जाने के बाद पूर्व आईएएस अधिकारी अश्विनी वैष्‍णव शनिवार को बीजेपी में शामिल हो गए. वहीं कांग्रेस ने उनकी उम्मीदवारी को सत्तारूढ़ बीजेडी की ओर से समर्थन दिए जाने के पीछे एक ‘सौदा’ होने का इशारा किया है. 

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निजी सचिव रह चुके वैष्णव यहां बीजेपी की ओडिशा इकाई के अध्यक्ष एवं सांसद बसंत पांडा और अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए.

बीजेपी की तरफ से पूर्व नौकरशाह को पांच जुलाई को होने वाले राज्यसभा उपचुनावों के लिए अपना उम्मीदवार घोषित करने के तुरंत बाद ओडिशा के मुख्यमंत्री एवं बीजेडी अध्यक्ष नवीन पटनायक ने उन्हें अपनी पार्टी का समर्थन देने की घोषणा की.  वैष्णव के पटनायक के साथ मधुर संबंध रहे हैं जिनकी पार्टी बीजू जनता दल (बीजेडी) वाजपेयी के समय में बीजेपी की सहयोगी थी. वाजपेयी ने कहा कि ओडिशा के लिए फिर से काम करने का यह उन्हें मिला बड़ा अवसर है.

कांग्रेस ने लगाया बीजेडी और बीजेपी में सांठगांठ का आरोप
हालांकि विपक्षी कांग्रेस सत्तारूढ़ बीजेडी पर यह आरोप लगाते हुए जमकर बरसी कि उसकी बीजेपी के साथ साठगांठ है जो राज्यसभा उपचुनाव में बीजेपी के प्रत्याशी को समर्थन देने की घोषणा से उजागर हो गई है. 

कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं विधायक नरसिंह मिश्रा ने कहा कि बीजेडी सभी तीन सीट पर हो रहे उपचुनाव में जीतने की स्थिति में थी क्योंकि वर्तमान में 145 सदस्यीय राज्य विधानसभा में उसके 111 सदस्य हैं. इसलिए बीजेडी और बीजेपी के बीच छिपे हुए संबंध अब सामने आ गए हैं. 

ये उपचुनाव अच्युत सामंत, सौम्य रंजन पटनायक और पी के देब द्वारा खाली की गई सीटों पर होंगे.