close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लता मंगेशकर के 90वे जन्मदिन पर फैन ने दिया अनूठा तोहफा, टाइपराइटर से बनाया पोट्रेट

टाइपराइटर से पोर्ट्रेट बनाना आसान काम नहीं है. लता दीदी का चित्र बनाने में उदय को पूरे 236 घंटे लगे. पोर्ट्रेट बनाने के लिए 364 कागजों का इस्तेमाल किया गया.

लता मंगेशकर के 90वे जन्मदिन पर फैन ने दिया अनूठा तोहफा, टाइपराइटर से बनाया पोट्रेट
सुरों की साम्राज्ञी लता मंगेशकर आज अपना 90वा जन्मदिन मना रही हैं.

नई दिल्ली: सुरों की साम्राज्ञी लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) आज अपना 90 वां जन्मदिन मना रही हैं. देश विदेश में फैले उनके करोड़ों फैन उनकी लंबी उम्र और सेहत की कामना कर रहे हैं. ऐसे ही उनके एक फैन ने लता दीदी को अनोखा तोहफा दिया है. ये फैन है मुंबई के पास ठाणे में रहने वाले उदय तलवलकर. उदय टाइपराइटर के जरिए अनेक हस्तियों के चित्र बना चुके हैं. इसी कड़ी में उदय ने लता दीदी का टाइपराइटर से पोर्ट्रेट बनाया है.

टाइपराइटर से पोर्ट्रेट बनाना आसान काम नहीं है. लता दीदी का चित्र बनाने में उदय को पूरे 236 घंटे लगे. पोर्ट्रेट बनाने के लिए 364 कागजों का इस्तेमाल किया गया. टाइपराइटर से पोर्ट्रेट बनाने में पूरा ध्यान एकाग्र करना पड़ता है. उंगलियों या नज़र की ज़रा सी चूक हुई नहीं कि घंटों की मेहनत पर पानी फिर जाता है लेकिन उदय अपने काम में माहिर है. पिछले 30 सालों से वो इस कला की साधना कर रहे हैं. लता दीदी का पोर्ट्रेट बनाकर वो बेहद खुश हैं.

पिछले छह दशक से सुरों की सरिता से देश विदेश के संगीत प्रेमियों को सराबोर करने वाली लता मंगेशकर किसी भी तोहफे या अवार्ड से बहुत ऊपर उठ चुकी हैं. केंद्र सरकार से उन्हें पद्म सीरिज के तमाम सम्मान मिल चुके हैं. फिल्म जगत का दादासाहेब फालके अवार्ड तो 30 साल पहले ही लता दीदी को दे दिया गया था. देश के सबसे बड़े सिविलियन सम्मान भारत रत्न से भी नवाज़ा जा चुका है लेकिन अपने एक फैन की तरफ से भेजा गया ये पोर्ट्रेट लता दीदी के लिए अनमोल तोहफे से कम नहीं है.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें