close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विज्ञान के नाम पर गायब हो गए ढोंगी बाबा, सिर पर चुनरी डालकर खुद को कहते थे 'भगवान'

ढोंगी धनजी सिर पर चुनरी ओढ़ता है और उसी से अपना चेहरा भी ढक कर रखता है. इसके अलावा धनजी उंगलियों में नेल पॉलिश भी लगाता है. धनजी गले में हाथों में उंगलियों में सोने की चैन और अंगूठियां पहनता है. 

विज्ञान के नाम पर गायब हो गए ढोंगी बाबा, सिर पर चुनरी डालकर खुद को कहते थे 'भगवान'

गुजरात: गुजरात से एक ऐसा किस्सा सामने आया है जिसे आप सुन कर हैरान रह जायेंगे. आज जहां खुद को बाबा बताकर करोड़ों की संपत्ति बना लेने वाले ढोंगी बाबाओ से लोग अच्छी तरह वाकिफ है फिर भी कई बार वे ऐसे बाबाओ का शिकार बन जाते है. गुजरात से भी एक ऐसे ही ढोंगी का किस्सा सामने आया है. गुजरात के इस ढोंगी ने ठगो की सारी सीमाएं लांग दी है. ये ढोंगी खुद को साक्षात ढबुडी माता बता रहा है. इस ढोंगी का नाम धनजी है और ये गुजरात के गांधीनगर के पास स्थित रुपाल गांव का रहने वाला है. धनजी का कहना है की उसपर जोगणी माता की कृपा है और वे लोगों की परेशानियां दूर करता है.

हालांकि धनजी की नौटंकी बढ़ता देख राजकोट के विज्ञान के जानकारों ने इस ढोंगी का पर्दा फाश करने का बेडा उठाया है. लोगों को साक्षात माता बताने वाला विज्ञान जगत का नाम सुनते ही गद्दी छोड़ भाग खड़ा होता है. विज्ञान के जानकारों ने ढोंगी का पर्दा फाश करने के लिए कमर कस ली है तो वही ढोंगी धनजी अंडरग्राउंड हो गया है जिसका कहीं कोई अता पता नहीं है.

ढोंगी धनजी सिर पर चुनरी ओढ़ता है और उसी से अपना चेहरा भी ढक कर रखता है. इसके अलावा धनजी उंगलियों में नेल पॉलिश भी लगाता है. धनजी गले में हाथों में उंगलियों में सोने की चैन और अंगूठियां पहनता है. ढोंगी धनजी के लिए ख़ास तरीके का सिंघासन तैयार किया जाता है जिसपर बैठने के बाद वे जोर जोर से हिल कर कापने का ढोंग करता है.

धनजी के कापने का ढोंग शुरू होते ही भीड़ के बीच आम भक्त बनकर बैठे धनजी के लोग धनजी के ढोंगी नाम ढबुडी माता के नाम के जयकारे लगाने लगते है. जिसके बाद लोग अपनी परेशानियां लेकर ढोंगी धनजी जे पास जाते है जिन ओर हाथ रख कर परेशानी दूर हो जाने का दवा करता है. लोगों का कहना है की धनजी ने कभी भी भक्तों से एक रुपए की भी मांग नहीं की है.

हालांकि ये भी उसके ढोंग का हिस्सा है. धनजी के दर्शन करने पहुंचे लोग अपनी श्रद्धा से जो पैसे रखते है उसका आंकड़ा लाखों को पार कर जाता है. ढोंगी जहां भी जाता है वहा उसके करीबी लोग भी उसके साथ जाते हैं और उसके तैयार किये गए दरबार के बहार फुल हार चुनरी उसकी भक्ति का साहित्य और खाने पिने की चीज़ो का धंधा करते है.

इस तरह से धनजी कई लोगों की आस्था के साथ खिलवाड़ कर रहा है. धनजी गुजरात के कई गावों में अपनी अंधश्रद्धा की दुकान जमाए बैठा है. धनजी गरीब और अस्वस्थ लोगो के सामने अपना ढोंग रचता है जिन्हे आसानी से शिकार बनाया जा सकता है. धनजी शादी-विवाह, कैंसर जैसी बीमारी और नौकरी की समस्या दूर करने का दावा करता है.

धनजी गुजरात के कई गावों में अपनी गद्दी फैला रहा है. धनजी जिस भी गांव में अपना ढोंग रचने जाता है उससे पहले धनजी के लोग उस गांव में पहुंच कर धनजी का प्रचार कर पर्चे बाटते है. धनजी का ऐसा प्रचार किया जाता है की जिससे धनजी की सभा में लाखो लोग अपनी समस्या का निवारण करवाने पहुंचते है जहा पार्किंग की भी बड़ी व्यवस्था करनी पड़ती है जिसकी पूरी व्यवस्था धनजी के लोग ही करते है.

हाल ही में धनजी ने ढबुडी माता बनकर पालनपुर में भी अपना कार्यक्रम किया था जहां पालनपुर के कांग्रेस विधायक महेश पटेल और तमाम पुलिस के अधिकारी ढोंगी धनजी के आगे नदमस्तक हुए थे. लोगो की आस्था से खेलनेवाला धनजी अब विज्ञान के जानकारों से छिपता फिर रहा है जिसका फिलहाल कोई अता पता नहीं है.

तो वही पालनपुर की अंधश्रद्धा निवारण समिति ने धनजी को चुनौती देते हुए कहा है की वे चमत्कार करके दिखाने के लिए 21 लाख से एक करोड़ तक का इनाम देने का एलान किया है. ढोंगी धनजी का पर्दाफाश होते देख उनके भक्त चाहते है की वे सामने आए और अपना चमत्कार दिखाए.