गोवा के विधानसभा स्‍पीकर प्रमोद सावंत बन सकते हैं राज्‍य के नए मुख्‍यमंत्री

गोवा में मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद उपजे सियासी हालात के बीच प्रमोद सावंत सबसे प्रबल दावेदार के रूप में उभरे हैं.

गोवा के विधानसभा स्‍पीकर प्रमोद सावंत बन सकते हैं राज्‍य के नए मुख्‍यमंत्री
प्रमोद सावंत गोवा विधानसभा अध्‍यक्ष हैं. (फाइल फोटो)

पणजी: गोवा में मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद उपजे सियासी हालात के बीच सूत्रों के मुताबिक वरिष्‍ठ बीजेपी नेता और विधानसभा के स्‍पीकर प्रमोद सावंत राज्‍य के नए मुख्‍यमंत्री बन सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी और सहयोगी दलों की रातभर चली बातचीत के बाद प्रमोद सावंत सबसे प्रबल दावेदार के रूप में उभरे हैं. पर्रिकर (63) का पणजी के पास उनके निजी आवास पर रविवार शाम निधन हो गया. वह पिछले एक साल से अग्नाशय संबंधी कैंसर से जूझ रहे थे.

एमजीपी ने फंसाया पेंच
इस बीच इस तरह की भी खबरें आ रही हैं कि राज्‍य के सबसे पुराने क्षेत्रीय दल एमजीपी की वजह से बीजेपी और सहयोगी दलों के बीच अभी एक राय नहीं बन सकी है. इस संबंध में भाजपा विधायक माइकल लोबो ने बताया कि देर रात पहुंचे केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता नितिन गडकरी राज्य में भगवा पार्टी और गठबंधन सहयोगी दलों के बीच कोई आम सहमति हासिल नहीं कर सके.

पणजी LIVE: BJP ऑफिस में पर्रिकर के अंतिम दर्शनों को उमड़ी भीड़, गडकरी भी पहुंचे

लोबो के मुताबिक तीन विधायकों वाली महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के विधायक सुदीन धवलीकर खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं. इस कारण अभी पूरी तरह से स्थिति साफ नहीं हो पाई है. लोबो ने रातभर चली बैठक के बाद एक होटल के पत्रकारों से कहा, ‘‘सुदीन धवलीकर खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं जबकि भाजपा चाहती है कि गठबंधन का नेता उसके खेमे का होना चाहिए. हम किसी भी फैसले पर नहीं पहुंच पाए.’’

इससे पहले गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) प्रमुख विजय सरदेसाई ने कहा था कि पार्टियां अभी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंची हैं. पर्रिकर के निधन के बाद 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में सदस्यों की संख्या 36 रह गई है। भाजपा विधायक फ्रांसिस डिसूजा का गत महीने निधन हो गया था जबकि दो कांग्रेस विधायकों ने पिछले साल इस्तीफा दे दिया था.